खेड़ापा थाने में धोखाधड़ी का मामला हुआ दर्ज

जोधपुर/राजस्थान, दिनेश राजपुरोहित: बावड़ी चौकी प्रभारी एएसआई जालाराम भाकर ने बताया कि बावड़ी निवासी परिवादी हनुमानराम उर्फ हड़मानाराम पुत्र पेमाराम विश्नोई ने मामला दर्ज कराया कि बावड़ी निवासी हीरालाल पुत्र स्व. उदाराम जाति जाट ने परिवादी के उक्त पट्टासुदा, कब्ज़ासुदा उपयोग के प्लॉट को हड़प करने की नीयत से व परिवादी व परिवादी की पत्नी पपुदेवी को सदोष हानि पहुंचाने व स्वयं को सदोष लाभ पहुचाने की बदनीयती से जाली कूटरचित फ़र्ज़ी पट्टा संख्या 125 मिशल संख्या 131 दिनांक 7 अप्रैल 1977 को अपने स्वयं के नाम से फ़र्ज़ी बनाया है जो कि एक गम्भीर अपराध है उक्त फ़र्ज़ी पट्टे का ग्राम पंचायत में कोई भी रिकॉर्ड नहीं है इस फ़र्ज़ी पट्टे में 1977 में दक्षिण में बिजलीघर का पडोस दर्शया गया जबकि ग्राम पंचायत बावड़ी ने 28.10.1989 को 132 केवी ग्रिड सबस्टेशन हेतु जमीन देने की स्वीकृति दी थी और 30.6.1992 को जिला कलेक्टर जोधपुर द्वारा मौजा बावड़ी में 132 केवी जीएसएस हेतु भूमि का आवंटन किया गया था जिससे यह स्पष्ट होता है कि दिनांक 7 अप्रैल 1977 में बिजली घर का पड़ोस नहीं था
हीरालाल द्वारा तैयार किया गया फर्जी पट्टे का रिकॉर्ड बावड़ी ग्राम पंचायत में मौजूद नहीं होने के बाद भी बावड़ी सरपंच दिनेश देश लहरा ग्राम विकास अधिकारी सुरेश कुमार ने उक्त फर्जी व कूट रचित पट्टे का हीरालाल के पक्ष में तहसील कार्यालय बावड़ी में पंजीयन करवा दिया गया उक्त पंजीयन नामा में तेजाराम ने अपनी साख डाली
खेड़ापा पुलिस ने हीरालाल पुत्र स्वर्गीय उदाराम जाति जाट निवासी बावड़ी, दिनेश देशलहरा सरपंच ग्राम पंचायत बावड़ी, सुरेश कुमार ग्राम विकास अधिकारी बावड़ी, व तेजाराम पुत्र कंवराराम जाति जाट निवासी बावड़ी के खिलाफ 420 467 468 471 120 बी के तहत मामला दर्ज कर जांच बावड़ी चौकी प्रभारी एएसआई जालाराम को सौंपी।

Share This Post