तांडव का चिन्ह् साथ लिए ही चालू हुआ हवाई अड्डा

कोलकाता/संजय साहा: विमान के ऊपर टूट पड़ा हैंगर के लोहे का फ्रेम। उड़ गया टर्मिनल के कोरोगेटेड शीट सुपर साइक्लोन ‘आम फान ’ से हुई बिद्धस्त हालात किसी तरह से थोड़ा संभाल कर बृहस्पतिवार दोपहर के बाद कोलकाता के विमान बंदर चालू कर दिया कर्तिपक्ष। इस दिन श्याम को राशिया से तिरुआंतपुराम घूम कर एक विमान कोलकाता में उतरा। इस शहर में अटका हुआ 100 विदेशियों को लेकर वह विमान राशियां उड़ गया। आनेवाले 25 मई से देश में अभ्यंतरिन उड़ान चालू होने का बात है। सुपर साइक्लोन आम फान की तांडव से जो क्षति विमान बंदर का हुआ उस से अभ्यंतरीन उड़ान चालू करने में समस्या नहीं होगी बोलके बताया विमान बंदर के आधिकारिक कौशिक भट्टाचार्य। उन्होंने बताया कि जरूरी रूप से टर्मिनल के छद मरम्मद के काम चालू हो गया। साइक्लोन के समय हवा 140 कि मि प्रति घंटा की गति से चल रहा था। उसी दौरान टर्मिनल के छद के कुछ हिस्से उड़ गया और कुछ हिस्से तोड़ फोड़ गया। कौशिक बाबू ने कहा बुधवार को सुपर साइक्लोन आम फान के साथ धुआधार बारिश के कारण टर्मिनल पर बहुत पानी घुस गया और भारी मात्रा से पानी जम गया। छद रिपेयरिंग के साथ साथ पानी निकालने का काम भी शुरू हो गया। तूफान में कुछ पेड़ों के शाखाएं उड़ कर आ गिरा पार्किंग बे, टैक्सी वे और रनवे पर वह सब आफत कालीन उद्योग से साफ किया गया। लेकिन नए टर्मिनल के पश्चिम भाग के दो हैंगर पूरी तरह से टूट गया और वहा पानी भर गया। उसमे से एक हैंगर के नीचे था एक बेसरकरी संस्था की छोटी विमान और एक पुरानी छोटी विमान। 16 और 17 नंबर हैंगर में एयर इंडिया और एलाइंस के कुछ इंजीनियरिंग के ऑफिस थे। वह सब तूफान और पानी से ध्चस्त हो गए। वह हैंगर के सामने करीब घुटने तक पानी भर गया। यह समस्या कोलकाता विमान बंदर में नया नहीं है। थोड़ी जोड़ से बारिश होने पर नारायणपुर तरफ हैंगर में पानी जम जाता है। कौशिक बाबू ने बताया जिधर से यात्री विमान आने जाने वाले रास्ते है वहा अभी कोई खास समस्या नहीं है। मशीन लगाकर पानी निकालने का प्रयास जारी है, और जरूरी रूप से बाकी के काम भी चल रहा है ताकि जल्द ही स्वाभाविक रूप से परिसेवा दिया जा सके। सच में सुपर साइक्लोन ‘आम फान’ ने जो तांडव रचाया उसका चिन्ह् बंगाल के चारों ओर दिखाई दे रहा है।

Share This Post