गणतंत्र दिवस पर बड़ी आतंकी साजिश नाकाम, जैश के 2 आतंकी गिरफ्तार

जम्मू कश्मीर/नगर संवाददाता : जम्मू और कश्मीर पुलिस ने एक बड़ी आतंकी साजिश को नाकाम किया है। जम्मू कश्मीर पुलिस नेजैश-ए-मोहम्मद के 2 आतंकियों को गिरफ्तार किया है। ये आतंकी गणतंत्र दिवस पर आत्मघाती हमला करने की योजना बना रहे थे। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक श्रीनगर पुलिस ने जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी मॉड्यूल का भंडाफोड़ किया है। गिरफ्तार आतंकी 26 जनवरी को ग्रेनेड से हमला करने की तैयारी में थे। आतंकियों के पास से हथियार व गोला.बारूद बरामद हुआ है।
गौरतलब है कि इससे पहले डोडा जिले में बुधवार को सुरक्षा बलों ने मुठभेड़ के दौरान हिजबुल मुजाहिदीन के एक शीर्ष आतंकवादी को मार गिराया था। एक अन्य साथी भागने में कामयाब रहा जिसके खिलाफ तलाशी अभियान चलाया जा रहा है। अधिकारियों ने बताया कि सुरक्षा बलों को इलाके में आतंकवादियों की मौजूदगी के बारे में जानकारी मिली थी। डोडा-किश्तवाड़.रामबन रेंज के पुलिस उप महानिरीक्षक सुजीत कुमार ने बताया थाकि मुठभेड़ में हिजबुल मुजाहिदीन का सदस्य हारून वानी मारा गया, जो ए-श्रेणी का आतंकवादी था। वह जिले के गट्टा इलाके का रहने वाला था। उन्होंने कहा कि एक अन्य आतंकवादी बर्फीले क्षेत्रों की ओर भाग गया और उसे पकड़ने के लिए अभियान जारी है। इन आतंकियों सेएक एके.47 राइफल, तीन मैगजीन, 73 कारतूस, एक चीनी ग्रेनेड और एक रेडियो सेट बरामद किए गए हैं। वहीं 13 जनवरी कोबडगाम जिले में सोमवार शाम घेराबंदी और तलाश अभियान के दौरान आतंकवादियों और सुरक्षा बलों के बीच हुई मुठभेड़ में एक आतंकवादी मारा गया था। दक्षिण कश्मीर के शोपियां जिला में सुरक्षा बलों ने छुपे हुए आतंकवादियों के ठिकाने का पता लगाया और भारी मात्रा में हथियार और गोलाबारूद बरामद किए, हलांकि सुरक्षा बलों के वहां पहुंचने से पहले आतंकवादी वहां से भाग गए थे।
आतंकवादियों के छुपे होने की सूचना मिलने पर सुरक्षा बलों ने देहरामपुरा, चांदडुरा गांव में अपराह्न को घेराबंदी और तलाश अभियान शुरू किया था। जब सुरक्षा बलों ने गांव के विशेष इलाके की घेराबंदी की छुपे हुए आतंकवादियों ने उन पर स्वचालित हथियारों से गोली चलानी शुरू कर दी। सुरक्षा बलों की जवाबी कारर्वाई के बाद मुठभेड़ शुरू हो गई। गोलीबारी में एक आतंकवादी मारा गया था। आतंकवादियों के फरार होने के प्रयास को रोकने के लिए इलाके अतिरिक्त सुरक्षा बलों को भेजा गया था।

Share This Post