राजस्थान में हुआ दर्दनाक हादसा

राजस्थान/गिरधारी लाल पारीक : भीम पंचायत समिति की बोरवास ग्राम पंचायत में चुनाव सम्पन्न करवाकर गुरुवार शाम को लौट रही पोलिंग पार्टी की बस मादा की बस्सी के पास ट्रोले के अचानक ब्रेक लगाने से अनियंत्रित होकर सड़क से नीचे एक साइड में खाई में उतर गई। जिसमें आरओ की दर्दनाक मौत हो गई और दो पुलिस कर्मचारी घायल हो गए। सूचना मिलते ही दिवेर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर व्यवस्था सम्भालते हुए घायलों को देवगढ़ हॉस्पिटल पहुंचाया और मृतक के शव को मोर्चरी में रखवाया गया। दिवेर पुलिस के अनुसार गुरुवार शाम को भीम पंचायत समिति की बोरवास ग्राम पंचायत में चुनाव संपन्न करवाकर पोलिंग पार्टी बस राजसमन्द लौट रही थी तभी मादा की बस्सी के पास मोड़ पर आगे चल रहे ट्रोले ने अचानक ब्रेक लगा दी, जिससे बस ट्रोले से टकराते हुए अनियंत्रित होकर सड़क से एक साइड खाई में उतर गई। जिससे बस में बैठे आरओ वीरवास निवासी व्याख्याता जगदीश चंद्र आमेटा (55) पुत्र मदनलाल आमेटा की गर्दन खिड़की के बाहर होने से पेड़ और बस के बीच आकर धड़ से अलग हो गई। धड़ बस के टायर के नीचे आ गया। जिससे उसकी दर्दनाक मौत हो गई।

साथ ही दुर्घटना में कांस्टेबल जितेंद्र सिंह पुत्र वागाराम गुर्जर थाना नाथद्वारा निवासी भरतपुर एवं हनुमान पुत्र बंशीलाल हेडकांस्टेबल किशनगढ़ निवासी खंडवा नागौर घायल हो गए। सूचना मिलते ही दिवेर थानाधिकारी लक्ष्मण सिंह चुंडावत, हेड कॉन्स्टेबल धनसिंह, आसूचना अधिकारी हेमन्त कुमार, कॉन्सटेबल गिरधारी, नरेंद्र सिंह, सुनील, सुरेन्द मय जाप्ता मौके पर पहुंचे और घायलों को निजी वाहन से देवगढ़ हॉस्पिटल पहुंचाया। उसके बाद हाइड्रो की मदद से बस को एक साइड कर मृतक के शव को बाहर निकाला और शव को 108 एम्बुलेंस से देवगढ़ सीएचसी पहुंचाया गया। देवगढ़ थानाधिकारी ने मृतक के परिजनों को सूचना दी। सड़क पर बिखरे कांच-लगा जाम अचानक ट्रोला रुकने से बस उसके अंदर गुस गई, जिससे उसके आगे का कांच और साइड ग्लास टूट गया और पूरी सड़क पर कांच के टुकड़े बिखर गए। बस की दुर्घटना की सूचना मिलते ही दिवेर पुलिस मौके पर पहुंची और व्यवस्थाएं संभाली।

Share This Post