बाल मजदूरी कराने वाले नपेंगेः डीसी

फिरोजपुर, पंजाब/नगर संवाददाताः जिलें में बच्चों को पढ़ाई से जोड़ने के उद्देश्य से 16 से 23 नवंबर तक बाल मजदूरी खात्मा मनाया जाएगा। डीसी डीपीएस खरबंदा ने कहा कि बाल मजदूरी में दोषी पाए जाने वाले दुकानदार को 20 हजार रूपये प्रति बाल मजदूर जुर्माना हो सकता है। यह जुर्माना मजदूर भलाई के लिए जमा कराया जाएगा। इ सप्ताह घरेलू काम के लिए 14 साल से कम आयु के बच्चों को रखने वाले लोगों की ओर ज्यादा ध्यान दिया जाएगा। उन्होनें कहा कि अगर कोई किसी मजदूर से बंधुआ मजदूरी करवाता है तो एक्ट के तहत तीन साल की सजा और दो हजार रूपये क जुर्माना हो सकता है। उन्होंनेें लोगांे को अपील की अगर कोई भी बाल मजदूरी करवाता है तो उसके बारे में एसडीएम से शिकायत करें, जिससे कि बाल मजबूरों को छुड़वाया जा सके।

Share This Post

Post Comment