बसपा के हाथों में सत्ता आना जरूरी: मायावती

लखनऊ। लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद पार्टी में नयी जान फूकने की कोशिश में जुटी बहुजन समाज पार्टी प्रमुख मायावती ने आज केन्द्र में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनने के बाद मुल्क का माहौल खराब होने का आरोप लगाया और कहा कि इससे बचने के लिए बसपा के हाथों में सत्ता की बागडोर आना बहुत जरूरी है। मायावती ने पार्टी केन्द्रीय कार्यकारिणी समिति के सदस्यों, राज्य इकाइयों के वरिष्ठ पदाधिकारियों एवं पार्टी प्रतिनिधियों के सम्मेलन में कहा कि केन्द्र में जब से भाजपा की सरकार बनी है तब से देश में माहौल काफी खराब हुआ है। यह स्थिति हमारे संविधान के मूल तथा पवित्र धर्मनिरपेक्षता के सिद्धांत की मजबूती के लिए शुभ संकेत नहीं है।

लोकसभा चुनाव में एक भी सीट हासिल नही होने के बाद संगठन के पेंच कसने में जुटी बसपा अध्यक्ष ने कहा वर्तमान राजनीतिक परिस्थिति से निपटने के लिए हर स्तर पर बसपा के जनाधार को काफी बढ़ाना होगा। हमारा देश आगे बढ़ने के बजाय पीछे जाता हुआ दिख रहा है और इससे बचने के लिए सत्ता की बागडोर सही हाथों में यानी बसपा के मजबूत हाथों में आना बहुत जरूरी है। मायावती ने कहा कि भीमराव अम्बेडकर की राय के अनुरूप शोषित और पीडित वर्गों को उनके संवैधानिक तथा कानूनी अधिकारों का सही लाभ तभी मिल सकता है जब वे अपने वोट के जरिए राजनीतिक सत्ता की मास्टर चाभी अपने हाथ में लेंगे।

Share This Post

Post Comment