वैज्ञानिकों ने गॉडजिला ग्रह की खोज की

वाशिंगटन। खगोलशास्त्रियों ने ब्रह्मांड में अब तक खोजे गए ग्रहों से भी कहीं ज्यादा बड़े ग्रह का पता लगाया है। नया ग्रह वजन में धरती से 17 गुना ज्यादा वजनदार और आकार में दो गुना बड़ा है। इसके आकार-प्रकार और चंट्टानी बहुलता को देखते हुए वैज्ञानिकों ने इसे �गॉडजिला� ग्रह की संज्ञा दी है।

वैसे नए खोजे गए इस विशाल ग्रह का नामकरण वैज्ञानिकों ने केपलर-10 के रूप में किया है। यह सूरज जैसे एक सितारे का हर 45 दिन में एक चक्कर लगाता है। तारामंडल में पृथ्वी से इसकी दूरी 560 प्रकाशवर्ष की है। अब तक माना जाता रहा है कि ऐसा कोई ग्रह बनना सैद्धांतिक तौर पर संभव नहीं है। यह ग्रह पूरी तरह ठोस है। माना जा रहा है ये चंट्टानों से भरा पड़ा है।

हार्वर्ड-स्मिथसोनियन सेंटर फॉर एस्ट्रोफिजिक्स के खगोलविद् जेवियर दमस्क ने कहा कि इस विशाल ग्रह का पता चलते ही हमारे आश्चर्य का ठिकाना नहीं रहा। उन्होंने इसे �धरतियों के गॉडजिला� की संज्ञा दी। इस ग्रह का पता सबसे पहले नासा के केपलर स्पेसक्राफ्ट ने लगाया था।

Share This Post

Post Comment