अब दूसरों के आंखों को उजाला देगी सूरज भान की आंखें मृत्यु उपरांत नेत्रदान का लिया था संकल्प

सिरसा/हरियाणा, राकेश सिंगला: भिवानी शहर राम गंज मोहल्ला निवासी 73 वर्षीय सुरज भान आज भले ही दुनिया में न हो, परंतु उनकी आंखें आज भी दुनिया देखती रहेंगी। यह सब संभव हो पाया है सुरज भान के मृत्यु उपरांत नेत्रदान प्रण के चलते। डेरा सच्चा सौदा की ब्लड डोनेशन समिति के जिम्मेवार मनीष इन्सां, मनोज इन्सां को सुरज भान जी के बारे में जानकारी देते हुए सेवादार पंकज इन्सां, बिमला इन्सां ने बताया कि सुरज जी ने डॉ एम एस जी की प्रेणना से नेत्रदान करने का प्रण लिया हुआ था। वे पिछले दिनों से बीमार थे। वे अपने पीछे 3 बेटे, 2 बेटीयों सहित भरा.पूरा परिवार छोड़ गए। उनकी मृत्यु के उपरांत भिवानी जालान आंखों के अस्पताल के नेत्र बैंक को सूचित किया गया। जिसके बाद डॉ. अडविन की अगुवाई में टीम उनके घर पहुंची तथा उनकी आंखें सुरक्षित रख ली। जिनका उपयोग किसी नेत्रहीन को दृष्टि देने में किया जाएगा। गौरतलब है कि सूरज जी मृत्यु उपरांत ही अपने नेत्रदान के प्रण के चलते सदा किए जाते रहेंगे।

WhatsApp Image 2019-11-11 at 9.56.23 AM

Share This Post

Post Comment