अयोध्या से आंखों देखी: चप्पे-चप्पे पर सख्त पहरा, सुरक्षा के लिए 10 ड्रोन तैनात

नई दिल्ली/नगर संवाददाता : लखनऊ। सुप्रीम कोर्ट अयोध्या के राम जन्मभूमि.बाबरी मस्जिद जमीन विवाद में कुछ ही देर में अपना ऐतिहासिक फैसला सुनाएगा। सुप्रीम कोर्ट के साथ ही अयोध्या पर भी सबकी नजरें लगी हुई है। अयोध्या से आंखों देखी.
. अलीगढ़ और मुजफ्फरनगर समेत उत्तर प्रदेश के कई जिलों में इंटरनेट सेवा बंद।
वेबदुनिया संवाददाता अवनीश कुमार से बातचीत करते हुए एडीजी (अभियोजन) उत्तर प्रदेश पुलिस आशुतोष पांडे ने कहा की भक्त श्री राम लल्ला के मंदिर के दर्शन कर रहे हैं। मंदिर जाने पर कोई प्रतिबंध नहीं हैं। सभी बाजार खुले हैं, स्थिति पूरी तरह से सामान्य है। सुरक्षा की दृष्टि से मंदिर तक पैदल जाने की छूट है और तलाशी अभियान चल रहा है।
. आशुतोष पांडे ने कहा कि अर्धसैनिक बल, आरपीएफ और पीएसी की 60 कंपनियां और 1200 पुलिस कांस्टेबल, 250 सब.इंस्पेक्टर, 20 उप.एसपी और 2 एसपी तैनात हैं। सुरक्षा निगरानी के लिए डबल लेयर बैरिकेडिंग, सार्वजनिक पता प्रणाली, 35 सीसीटीवी और 10 ड्रोन तैनात किए गए हैं स्थिति सामान्य रूप से चल रही है।
. फैसले से पहले उत्तर प्रदेश में हालात सामान्य रखने के लिए कड़ी चौकसी बरती जा रही है। राज्य में धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू कर दी गई है।
. फैसले के मद्देनजर उत्तरप्रदेश में सभी सरकारी विभागों के कार्यक्रम रद्द किए गए।
. अयोध्या जाने वाले सारे रास्तों पर सुरक्षा के सख्‍त इंतजाम, शहर में बाहरी व्यक्तियों के जाने पर रोक।

Share This Post

Post Comment