करतारपुर कॉरिडोर: पाकिस्तान की एक और हरकत, अब पहले दिन से ही चुकानी होगी फीस

नई दिल्ली/नगर संवाददाता : करतारपुर कॉरिडोर के उद्‍घाटन से पहले पाकिस्तान नित नए नियम बदल रहा है। पहले पाकिस्तान ने कहा था कि बिना पासपोर्ट-वीजा के श्रद्धालु आ सकेंगे, लेकिन फिर कहा कि यात्रा के लिए पासपोर्ट जरूरी होगा। अब श्रद्धालुओं से लिए जाने वाले शुल्क को लेकर भी पाक ने यू टर्न मारा है।
एएनआई ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि पाकिस्तान 9 नवंबर से ही श्रद्धालुओं से 20 डॉलर की राशि शुल्क के रूप में बसूलेगा। जबकि, पाक की ओर से ही पहले कहा गया था कि करतारपुर कॉरिडोर के उद्‍घाटन वाले दिन सिख श्रद्धालुओं से कोई फीस नहीं ली जाएगी, लेकिन अब इसी दिन से फीस लेने की बात कही जा रही है।

दूसरी ओर, भारत और पाकिस्तान के बीच नवनिर्मित करतारपुर गलियारे के उद्घाटन की पूर्व संध्या पर भी जुबानी जंग जारी है। भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि पाकिस्तान से विरोधाभासी रिपोर्टें आ रहीं हैं। कुमार की यह टिप्पणी पाकिस्तान की सेना के बयान के बाद आई थी, जिसमें सेना के प्रवक्ता ने कहा कि करतारपुर आने वाले भारतीय तीर्थयात्रियों के लिए वीजा जरूरी होगा।
इससे पहले पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने ट्वीट करके घोषणा की थी कि उद्घाटन के मौके पर 9 से 12 नवंबर के बीच तीर्थयात्रियों को पासपोर्ट की जरूरत नहीं होगी। वास्तविक स्थिति पूछे जाने पर कुमार ने कहा कि दोनों देशों के बीच एक करार पर दस्तखत किए गए हैं और उसमें पासपोर्ट की अनिवार्यता लिखी है।

Share This Post

Post Comment