पंजाब पुलिस टीम को बंधक बनाकर मारपीट, फायरिंग में एक ग्रामीण की मौत

चंडीगढ़/नगर संवाददाता : हरियाणा पुलिस ने सिरसा जिले के देसु जोधा गांव में आज तड़के रेड करने गई पंजाब पुलिस की टीम को बंधक बनाकर मारपीट करने और पुलिस द्वारा फायरिंग किए जाने के मामले में जांच शुरू कर दी है।

इस घटना में पुलिस का एक हेड कांस्टेबल और एक ग्रामीण गंभीर रूप से घायल हो गए थे। इनमें से ग्रामीण ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया जबकि हेड कांस्टेबल को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
पुलिस विभाग के एक प्रवक्ता ने आज यहां यह जानकारी देते हुए बताया कि इस घटना में पुलिस का एक हेड कांस्टेबल और एक ग्रामीण गंभीर रूप से घायल हो गए थे। इनमें से ग्रामीण ने ओढ़ा सामुदायिक स्वास्थ्‍य केंद्र में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया जबकि हेड कांस्टेबल को इलाज के लिए बठिंडा के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

प्रवक्ता के अनुसार बठिंडा सीआईए पुलिस टीम ड्रग्स तस्करी के एक मामले में आज तड़के 5 बजे सिरसा जिले के डबवाली अंतर्गत देसु जोधा गांव में छापामारी करने गई थी। पंजाब पुलिस ने यह छापा एक व्यक्ति से 6000 ट्रामाडोल की गोलियां बरामद किए जाने के सिलसिले में की थी। आरोपी ने पूछताछ के दौरान बताया कि उसने ये प्रतिबंधित गोलियां देसु जोधा गांव के एक निवासी से खरीदी थीं।

प्रवक्ता के अनुसार बठिंडा पुलिस को दूसरे राज्य में छापामारी के लिए हालांकि पहले स्थानीय पुलिस को सूचित कर मदद लेनी चाहिए थी लेकिन उसने सिरसा पुलिस को ऐसी कोई जानकारी नहीं दी जो बठिंडा पुलिस की लापरवाही को दर्शाता है। रेड करने गई पंजाब पुलिस की टीम पर ग्रामीणों ने हमला कर उसके वाहन को भी आग लगा दी।

आत्मरक्षा में पुलिस ने ग्रामीणों को डराने के लिए हवाई फायर भी किए। इस पर, ग्रामीण और भड़क गए और इन्होंने सामूहिक रूप से पुलिस टीम पर हमला कर दिया जिसमें कई पुलिसकर्मी घायल हो गए। इस घटना में एक हेड कांस्टेबल और एक ग्रामीण को गोली लगी। ओढ़ा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में इलाज के दौरान ग्रामीण की मौत हो गई, जबकि गंभीर रूप से घायल हुए पंजाब पुलिस के हेड कांस्टेबल को इलाज के लिए बठिंडा के एक अस्पताल में भर्ती कराया है।

इस बीच अपुष्ट सूत्रों के अनुसार पुलिस फायरिंग और मारपीट की घटना में 2 पुलिसकर्मियों को गोली लगी है तथा एक महिला कांस्टेबल समेत 3 अन्य पुलिसकर्मी मारपीट की घटना में घायल हुए हैं। वहीं मृतक व्यक्ति उसकी परिवार का बताया जा रहा है जहां पंजाब पुलिस ने छापा मारा था।

मामले की सूचना मिलते ही सदर थाना डबवाली की टीम तुरंत मौके पर पहुंची और स्थिति को नियंत्रण में किया। पंजाब पुलिसकर्मियों को बचाने के बाद सभी घायल लोगों को नजदीक के अस्पतालों में भर्ती कराया गया। इस घटना में दोनों ओर से शिकायतें दर्ज होने के बाद, हरियाणा पुलिस ने इस मामले को उच्चतम स्तर पर पंजाब पुलिस के साथ उठाया है और इस संबंध में सभी पहलुओं की जांच की जा रही है।

Share This Post

Post Comment