लुधियाना पहंुची शताब्दी एक्सप्रेस में यात्रियों को परोसा गया बदबूदार पनीर, यात्रियों की तबियत बिगडी

लुधियाना/पंजाब, संदीप मिश्राः दिल्ली से अमृतसर आ रही शताब्दी एक्सप्रेस के लुधियाना पहुंचने पर यात्रियों को बदबूदार पनीर परोस दिया गया। पनीर खाने के बाद 15 यात्रियों को पेट में दर्द उठा। इसके बाद यात्रियों ने शताब्दी एक्सप्रेस में बनी पेंट्री में बैठे स्टाफ को घेरकर खूब खरी-खोटी सुनाई। पेंट्री के मैनेजर ने माना कि पनीर खराब हो चुका था, लेकिन स्टाफ ने गलती से यात्रियों को परोस दिया।
पंकज अरोड़ा निवासी अमृतसर ने बताया कि वह अपने परिवार संग दिल्ली किसी काम से गए थे। अमृतसर आने के लिए शताब्दी एक्सप्रेस में सवार हुए। लुधियाना में शताब्दी के स्टाफ ने यात्रियों को भोजन देना शुरू किया। पनीर की सब्जी और रोटियां थीं। पनीर में खट्टापन था। यात्रियों ने यह खाना खा लियाए लेकिन पंद्रह मिनट बाद ही उनके पेट में दर्द होने लगा।
पंकज गोयल के अनुसार मेरे पेट में भी तेज दर्द होने लगा। कुछ यात्रियों ने बताया कि पनीर से बदबू आ रही है। मैं अपनी सीट से उठा और शताब्दी की पेंट्री में पहुंचा। यहां मैनेजर अरुण कुमार व स्टाफ बैठा था। इस दौरान कुछ और यात्री वहां पहुंच गए। मैनेजर को खरी-खोटी सुनाने पर उसने मान लिया कि पनीर खराब हो चुका था। मैनेजर ने कहा कि मैंने अपने स्टाफ से कहा था कि पनीर सर्व न करें। यात्रियों को दाल व चावल दे दें, लेकिन स्टाफ ने गलती से पनीर और रोटी ही सर्व कर दी। मैनेजर ने साॅरी बोलकर खेद व्यक्त किया।
यात्रियों का पेट दर्द होने के बाद शताब्दी एक्सप्रेस में मेडिकल सुविधा नहीं मिली। यात्रियों के अनुसार ट्रेन में स्वास्थ्य बिगडने पर मेडिकल सहायता मिलने का प्रावधान है, पर शताब्दी के स्टाफ ने यात्रियों की बिगड़ती हालत देखने के बाद भी ऐसी कोई व्यवस्था नहीं की। यात्रियों ने अमृतसर पहुंचकर पहले नींबू पानी पिया। कुछ ने तो दवा भी ली।
उधर, अमृतसर के स्टेशन डायरेक्टर अमृत सिंह ने बताया कि यात्रियों की शिकायत मुझे मिली है। शताब्दी एक्सप्रेस में खाना दिल्ली से आया था। इस संबंध में सीनियर डीसीएम दिल्ली को सूचना भेज दी गई है। इस पर अगली कार्यवाही दिल्ली से होगी।

Share This Post

Post Comment