गुजरात पुलिस की कस्टडी में हुई आरोपी मौत की मजिस्ट्रीयल जांच के आदेश

द्वारका/गुजरात, हार्दिक हरसौराः गुजरात पुलिस की कस्टडी में हुए युवक की मौत के मामले में जिलाधिकारी ने मजिस्ट्रीयल जांच बैठा दी है। जिलाधिकारी ने मामले की जांच सिटी मजिस्ट्रेट जगदीश लाल को सौंपी है।
गुजरात के द्वारिका जिला देवभूमि से दो किशोरियों के अपने साथ बहलाफुसलाकर लाने वाले आरोपी मलूभा पुत्र बुधवा निवासी नरसिंह टेकरी द्वारिका गुजरात पुलिस के हेड कांस्टेबल परेश गुजिया व कांस्टेबल आला भाई ने मलूभा को ब्रह्मपुरी में दबिश देकर गिरफ्तार किया था। रात को चितांमणि आश्रम से कूदकर मलूभा ने गुजरात पुलिस के सामने ही आत्महत्या कर ली थी। कस्टडी में मौत के बाद जिलाधिकारी दीपक रावत ने मामले की मजिस्ट्रीयल जांच के आदेश कर दिए हैं। मामले की जांच सिटी मजिस्ट्रेट को सौंपी गई है। जिलाधिकारी दीपक रावत ने बताया कि घटना के सम्बन्ध में यदि किसी व्यक्ति को कोई मौखिक अथवा लिखित साक्ष्य प्रस्तुत करना हो तो वह दो दिवस के भीतर नगर मजिस्ट्रेट के कार्यालय में दे सकता है।

Share This Post

Post Comment