एक छोटी सी आशा

बेगूसराय/बिहार, राकेश कुमारः वीपीएस कंप्यूटर, बेगूसराय का एक नामी शैक्षणिक संस्थान है। इस संस्थान में मुख्य रूप से कंप्यूटर का पाठ्यक्रम होता है जिसे श्री विवेकानंद ठाकुर जी ने 1994 में शुरू किया था। आज यह इन्दिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय, मौलाना मजहरुल हक अरबी व फारसी विश्वविद्यालय का अध्ययन केंद्र है। यहां कुशल युवा योजना के अन्तर्गत छात्र-छात्राओं को मुफ्त में शिक्षा प्रदान की जाती है। जो वीपीएस कंप्यूटर को और संस्थानों से अलग करता है, वो है यहां का अनुशासन और उच्च गुणवत्ता शिक्षा। आज बेगूसराय में इसकी शाखाएं हैं। जिस मुकाम पर आज यह संस्थान है इसके पीछे श्री विवेकानंद जी की कड़ी मेहनत और दृढ़ संकल्प का नतीजा है। श्री विवेकानंद जी ने अपने जीवन के५25 साल वीपीएस को दिए हैं। इन 25 सालों में कई उतार चढ़ाव आए, लेकिन इससे जुड़े हर सदस्य ने धीरज रख एक दूसरे का साथ दिया। वीपीएस अपने यहां पढ़ रहे छात्र-छात्राओं को रोजगार दिलाने में भी उनकी मदद करता है। इसमें पढ़ाई के अलावा अतिरिक्त पाठयक्रम गतिविधियां भी होती है। यहां लोगों को प्रेरित किया जाता है।
जहां बेगूसराय के बच्चो और युवाओं को मिल रही है उच्च गुणवत्ता शिक्षा, वहीं हमें मिली रही है। एक छोटी सी आशा।

Share This Post

Post Comment