कोयला लोड रेलवे वैगन के साइड का ढक्कन खोल बड़ी पैमाने पर हो रहा कोयला चोरी

उमरिया/मध्यप्रदेश, रोहित कुमारः उमरिया जिला अंतर्गत नौरोजाबाद कोयला साइडिंग से लेकर स्टेशन तक कोल माफिया इन दिनों बड़े पैमाने पर एसईसीएल के कोयले को चपत लगा रहे हैं। वार्ड क्रमांक 4 जीएम कांप्लेक्स के सब स्टेशन के पीछे कोल माफियाओं ने मालगाड़ी का ढक्कन खोल भारी पैमाने पर कोयला गिरा दिया है। जीएम कांप्लेक्स काॅलोनी में कई जिम्मेदार अफसर भी मौजूद है। फिर भी यह सब देख अनदेखा कर रहे हैं। कुछ ही दूरी पर मेन लाइन कटनी बिलासपुर का ट्रैक जुड़ा हुआ है। इस लाइन से देश के विभिन्न जगहों पर कोयला भेजा जाता है। इस कोयला चोरी से राष्ट्र को अपूर्णीय क्षति का सामना करना पड़ रहा है। माफियाओं के प्रलोभन में आकर सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण महिला-पुरुषों द्वारा इंजन पायलट सहित आरपीएफ एवं पुलिस की सेटिंग से कोयला लोड रेल मालगाड़ियों में चढ़कर जान जोखिम में डालते हुए हाई वोल्टेज विद्युत लाइन के नीचे से भारी मात्रा में कोयले की चोरी की जाती है।
कोयला लोड रेलवे वैगनों में चढ़कर कोयला चोरी करने के चक्कर में कई ग्रामीण अपनी जान गंवा चुके हैं। इसके बाद भी कोयले की काली कमाई के चर में एसईसीएल सहित पुलिस एवं आरपीएफ महकमा पूरी तरह मौन है। एसईसीएल के कटनी एवं बिलासपुर क्षेत्र से रेल मार्ग के जरिए देश के विभिन्न सरकारी विद्युत तापग्रहों सहित निजी उद्योगों में प्रतिमाह भारी मात्रा में कोयला भेजा जाता है। संबंधित महकमे की सांठगांठ से कोयला चोर गिरोह द्वारा प्रत्येक रेल मालगाड़ी से भारी मात्रा में कोयला उतार कर चोरी कर लिया जाता है।
कोयला चोरी के काले कारोबार में अपराधी प्रवृत्ति के युवकों का गिरोह सक्रिय है। रेल मालगाड़ियों से चुराया गया कोयला साइकिल, बाइक एवं पिकअप वाहनों से क्षेत्र में संचालित तथाकथित वैध एवं अवैध ईंट भट्ठों में बेरोकटोक खपाया जाता है। कोयला चोरी को लोगों ने जीविकोपार्जन का जरिया बना लिया है। इतना ही नहीं कई बार तो कोयला लोड रेलवे वैगन के साइड का ढक्कन खोल कर कोयला गिरा देते हैं।
आशंका है कि कोल माफिया वही नजदीक अवैध कोयले का स्टाॅक बनाकर रखा हुआ है। कहीं ना कहीं स्टाफ पुलिस और कई नेताओं के इशारों पर यह काम होता है। अच्छी क्वालिटी के कोयला कटनी सतना मैहर में खा पाया जा रहा है। छोट- छोटे चूरे को आसपास के भट्टों में सप्लाई की जा रही है।

Share This Post

Post Comment