माइनिंग नदियां में खडे़ हरे भरे पेड़ो को काट बनाये जा रहे रास्ते

p

कुराली/मोहाली/पंजाब, जगदीश सिंहः घाट के क्षेत्र में रेतमाफिया की तरफ से लगातार नाजायंज माइनिंग खुले आम धडल्ले के साथ की जा रही है और पंजाब सरकार की तरफ से नजायंज माइनिंग को रोकनो के लिए चाहे बडे़-बडे दावे किये जा रहे हंै लेकिन इस क्षेत्र में नाजायंज माइनिंग करने वालों पर अभी तक किसी तरह का कोई भी शिकंजा नहीं कसा गया। खास कर थाना मुल्लांपुर गरीबदास के अंदर पडते गांव स्यामी पुर में रेत माफिया की तरफ से लगातार सरेआम नाजायज माइनिंग की जा रही है और जो लोग नाजायज माइनिंग कर रहे हैं इनकी तरफ से किसी को विभाग की कोई भी परवाह नहीं है। यहां इन्होंने नदियां में लगभग 40 से 50 फुट गहरे गड्ढे खोदे हुए है। यही बस नहीं इन लोगो की तरफ से नदियो के बीच में से ट्रैक्टर निकालने के लिए नदियां में खडे़ हरे भरे पेड़ांे को काट कर रास्ते बनाये हुए हैं। लेकिन इन लोगों पर किसी भी तरह की कोई कार्यवाही नहीं की जा रही। जिक्र योग्य है कि पिछले साल रेत माफिया की तरफ से एक वन अधिकारी पर जान लेवा हमला कर दिया गया था और वह वन अफसर आज भी विस्तर पर ही अपनी जिंदगी काट रहा है। जिस कारण रेत माफिया का खौफ आम लोगों में बना हुआ है। इस माफिया के लोग अब किसी न किसी राजनीतिक पार्टी में शामिल हो गए है और इनके सवंध बडे नेताओ के साथ है जिस कारण यह आम लोगांे पर हावी रहते हैं और आम लोग इनकी ऊंची पहुंच होने के कारण इनसे पंगा भी नहीं लेना चाहते। इस तरह लगातार स्यामीपुर की नदियों में आज भी सरेआम धरती का सीना फाड माइनिंग का कारोबार जारी हैं। यदि यहां कोई पत्रकार इन की कवरेज करने जाता है तो उनको भी डराया धमकाया जाता है यहां तक कि रेत माफिया की तरफ से इसी क्षेत्र में दिन रात नाजायंज माइनिंग कर सरकार को करोड़ांे रुपए का चुना लगाया जा रहा है और प्रशासन की तरफ से रेत माफिया को अनदेखा किया जा रहा है। इस के साथ ही रेत भरने के लिए कई हरे भरे पेड़ों की बली रेत माफिया की तरफ से ली जा रही है। इस सवंधी जब जिला वन विभाग के साथ बात की तो उन्होंने कहा कि हमारे अधिकार क्षेत्र में यदि कोई व्यक्ति पेडकाट कर रेत उठाता पाया गया तो उन के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जायेगी। स्यामी पुर में चल रही नजायंज माइनिंग सवंधी जब माइनिंग अफसर के साथ बात की तो उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र की जांच की जायेगी और यदि कोई व्यक्ति नाजायंज माइनिंग करता पाया गया तो उस पर बनती कानूनी कार्यवाही की जायेगी। पत्रकारों की खबर खरीदने की कि जाती है कोशिश जब कोई गांव वासी अवैध माइनिंग से परेशान होकर किसी पत्रकार को मौके पर बुलाते है तो पत्रकार की खबर को खरीदने की कोशिश भी इन लोगांे की और से की जाती है। इसी मद्दे नजर बीते दिन जब एक पंजाबी अखबार के पत्रकार को गांव वासीयों ने अवैध माइनिंग होने की सूचना दी तो मौके पर जब पत्रकार वहां पहुंचा तो फोटो खींचने पर माइनिंग कर रहे वयक्ति ने पत्रकार से हाथ पाई कर उससे कैमरा खींचने की कोशिश की है। जिस सवंधी पत्रकार ने थाना मुल्लांपुर में उस वयक्ति के खिलाफ शिकायत भी दी है। कोई बलजीत सिंह नामक वयक्ति चलाता है इस कारोबार को गांव स्यामीपुर के लोगों ने नाम ना छापने की शर्त पर बताया कि कोई बलजीत सिंह नामक वयक्ति इस समय स्यामीपुर में माइनिंग माफिया का करोबार चला रहा है। उसी गांव वासी ने बताया कि यहां शाम ढलते ही ये लोगांे पहले शराब पीते हैं फिर इनका गिरोह पूरी रात माइनिंग करता है और रात को कोई टीम इन्हें पकड़ने नहीं आती।

Share This Post

Post Comment