गरियाबंद-हिरण के शिकार करने वाले अपराधी धर दबोचे गये !

i

गरियाबंद, त्रिलोचन चक्रवर्ती : वन परिक्षेत्र के अंतर्गत ग्राम टुइयामुडा के वन परिक्षेत्र में 20 लोगों ने हिरन का शिकार किया। इस क्षेत्र में हमेशा जंगली जानवरों का शिकार होता आया रहा है। इस क्षेत्र में वन जीव जन्तुओ का शिकार बन्द होने का नाम नही ले रहा है। जिसने हमेशा जीव जन्तुओ का शिकार होता आया है। कभी चितल तो कभी जंगली सुअर तो कभी अन्य जानवरों का शिकार होता आया रहा है। इस बार गरियाबंद में हिरन का शिकार किया गया है, जिसने करीब करीब 20 लोगों के शामिल होने का अंदाजा लगाया जा रहा है। मुखबिरो की सूचना पर वन विभाग की टीमे मौके पर पहुंचकर हिरन के मांस एवं शिकार मे लाये गये हथियार को जप्ती किया गया साथ मे करीब 13 लोगों को गिरफ़्तार किया गया बाकी लोगों की तलाश जारी है। पकड़े गए आरोपियो को वन प्राडी अधिनियम के तहत कारवाही की जा रही है। वन अधिकारी आर एन पांडे ने बताया की मुखवीरो द्वारा सूचना दी गई कि टुइयामुडा सुमार पारा मे कुछ लोग हिरन के मांस का बट्वारा किया जा रहा है एवं पकाने के लिए मांस के टुकडे कर के पकाने की तैयारी की जा रही है। मुखवीरो के द्वारा दिये गये सूचना के अंतर्गत वन अधिकारी दविश देकर आरोपियो को गिरफ़्तार किया गया एवं मांस को जप्त किया गया। इस शिकार मे करीब 20 लोगो के शामिल होने की जानकारी प्राप्त हुई है, जिसमे मौके पर 13 लोगो को गिरफ़्तार कर लिया गया है बाकी आरोपियो की तलाश जारी है।

Share This Post

Post Comment