‘प्रभ आसरा’ के स्पेशल बच्चों ने ओलंपिक 2018 में 32 मैडल जीते

88

मोहाली, जगदीश सिंह : शहर में लावारिस लोगों की देखरेख कर रही ‘प्रभ आसरा’ संस्था के स्पेशल बच्चों ने लुधियाना में 7 से 9 दिसंबर तक हुई 21वीं स्टेट स्पेशल ओलंपिक में 32 मैडल जीते हैं। संस्था के मुख्य प्रबंधक बीबी राजिंदर कौर पडियाला ने बताया कि संस्था के 25 बच्चों ने लुधियाना में हुई 21वीं पंजाब स्टेट स्पेशल ओलंपिक्स के अलग-अलग खेलों में भाग लेते हुए 32 मैडल जीते हैं। उन्होंने बताया आम बच्चों की तरह इनमें पढऩे लिखने की काबिलियत नहीं होती लेकिन इनकी असली काबिलियत और दिलचस्पी को पहचान कर उसको निखारा जाए तो यह भी समाज में अपनी पहचान बना सकते हैं । उन्होंने कहा कि इंसान अपने मनोरंजन के लिए बहुत उपाय करता है लेकिन गाना बजाना,नाचना खेलना आदि जबकि समाज में नजरअंदाज हो गए विकलांग बच्चों को अगर ऐसा मौका मिलता है तो उनकी काबिलियत सामने आ जाती है जिसकी मिसाल ‘प्रभ आसरा’ संस्था के स्पेशल बच्चो ने 21वीं पंजाब स्टेट स्पेशल ओलंपिक खेलों में हिस्सा लेते हुए 32 मैडल जीत के दिए हैं। बीबी राजिंदर कौर पडियाला ने बताया कि 21वीं पंजाब स्टेट स्पेशल ओलंपिक में हिस्सा लेते हुए इन स्पेशल बच्चों ने दौड,टेबल टेनिस,लंबी छलांग और गोला फेंकने में 10 गोल्ड मैडल,11 चांदी और 11 तांबे के मैडल जीतने में सफलता हासिल की है। बीबी राजिंदर कौर पडियाला ने बताया कि ऐसे मुकाबले इन बच्चों के हौसले बढ़ाने के साथ-साथ इनके व्यवहार को सुधारने में बहुत फायदेमंद होते हैं। इस मौके जीते हुए खिलाड़ियों को मुबारक बात देते हुए उन्होंने कहा कि ऐसे मुकाबलों में हिस्सा लेकर इन बच्चों के अंदर आत्मविश्वास बढ़ता है जो कि इन के पुनर्वास के लिए लाभदायक होता है।

Share This Post

Post Comment