सीबीआई का छापा पड़ते ही जब इस शख्स ने सीधे पीएम को मिलाया फोन

राजकोट, हार्दिक हरसौरा : सीबीआई में इन दिनों बड़ी तकरार चल रही है। डायरेक्टर आलोक वर्मा और स्पेशल डायेक्टर राकेश अस्थाना के बीच जंग के बाद सरकार ने दोनों ही अधिकारियों को छुट्टी पर भेज दिया। असली बवाल तो तब शुरू हुआ जब सरकार ने राकेश अस्थाना के खिलाफ जांच कर रहे सीबीआई के एक डीएसपी का तबादला कर दिया। इसके बाद आलोक वर्मा ने भी उन्हें छुट्टी पर भेजे जाने के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अपील दायर की। सुप्रीम कोर्ट ने 10 दिनों में जांच करके स्थिति साफ करने को कहा है। वहीं, आपको आज एक ऐसा ही पुराना किस्सा बताता हूं जब खुद प्रधानमंत्री ने एक फोन के बाद सीबीआई डायरेक्टर को हटा दिया। जी हां बात 1998 की है। उस वक्त त्रिनाथ मिश्रा सीबीआई के डायरेक्टर हुआ करते थे और प्रधानमंत्री थे अटल बिहारी वाजपेयी। 19 नवंबर 1998 को सीबीआई ने रिलायंस के दिल्ली के एक होटल में रेड मारी। सीबीआई को सूचना मिली थी कि सरकार से जुड़ी अहम फाइलें रिलायंस के पास हैं। उस वक्त धीरूभाई अंबानी रिलायंस के मुखिया थे। रेड के बाद सीबीआई ने दावा किया था कि पेट्रोलियम मंत्रालय से जुड़ी कुछ फाइलें होटल से बरामद हुईं थीं लेकिन रिलायंस ने सीबीआई के दावे को खारिज कर दिया। इस छापे के बाद धीरूभाई अंबानी ने सीधे अटलजी को फोन किया और सीबीआई की शिकायत की। इस फोन के तुरंत बाद अटलजी ने सीबीआई के निदेशक त्रिनाथ मिश्रा को उनके पद से हटा दिया।

Share This Post

Post Comment