भाजपा को बड़ा झटका, सड़क दुर्घटना में भाजपा मंडल अध्यक्ष सहित 10 की मौत

44

छत्तीसगढ़, जयदेव पटेल : नवरात्रि की पावन पर्व में नुआपाड़ा थाना क्षेत्र में दर्शन कर लौट रहे श्रद्धालु में एक भीषण सड़क हादसे के शिकार हो गए। बुधवार सुबह एक तेज रफ्तार बोलेरों की ट्रक से भिड़ंत हो गयी जिसमे बोलेरों सवार 10 श्रद्धालुओं की मौके पर ही मौत हो गयी और अन्य घायल हो गए। जानकारी के अनुसार यह भीषण सड़क हादसा नुआपाड़ा थाना क्षेत्र में हुआ है। बुधवार सुबह कोमना माँ के दर्शन कर लौट रही श्रद्धालुओं से भरी बोलेरों दुर्घटनाग्रस्त हो गयी। बोलेरों अनियंत्रित होकर नुआपाड़ा के पास तेज रफ्तार ट्रक से जा टकराई। टक्कर इतनी जोरदार थी की बोलेरों के परखच्चे उड़ गए। जानकारी के अनुसार बोलेरों में 10 श्रद्धालु थे जिनकी इस हादसे मे मौत हो गयी है। कुछ लोगो की तो मौत मौके पर ही हो चुकी थी वहीं राहगीरों और पुलिस की मदद से गंभीर रूप से घायल श्रद्धालुओं से अस्पताल ले जाते वक्त रास्ते में दम तोड़ दिया। घटना की जानकारी होते ही पुलिस मौके पर पहुँच गयी और राहगीरों की मदद से सभी मृतकों और घायलों को क्षतिग्रस्त बोलेरो से बाहर निकाला और नुआपाड़ा जिला अस्पताल ले गए। पुलिस ने मृतकों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस ने मृतकों की पहचान कर घटना की सूचना परिजनों को दी। जानकारी होते ही परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है| घटना की जानकारी होते ही छत्तीसगढ़ के कैबिनेट मंत्री दर्जा प्राप्त अक्षय ऊर्जा, बोर्ड अध्यक्ष पुरंदर मिश्रा, ओडिशा प्रदेश के भाजपा अध्यक्ष एवं विधायक बंसत पंडा, महासमुंद जिला भाजपाध्यक्ष इंद्रजीत सिंह गोल्डी, बागबाहरा जनपद उपाध्यक्ष भेखलाल साहू बसना नगर पंचायत अध्यक्ष भाजपा नेता सम्पत अग्रवाल घटना स्थल पर पहुंच गए। बुधवार हुए इस भीषण सड़क हादसे में मरने वालों में सांकरा भाजपा मंडल अध्यक्ष सुरजीत सिंह पप्पू, डॉ. दिनेश, उनकी पत्नी व दो बच्चे, बलदीडीह के सरपंच के पति मेघनाथ निषाद, अंसुला के मुकेश अग्रवाल, सांकरा के पूर्व सरपंच झुमुक नेताम के भांजी-भांजा व 1 अन्य हैं। बुधवार सुबह नुआपाड़ा में हुए सड़क हादसे में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह ने 10 दर्शनार्थियों की मौत पर गहरा दुख जताते हुए परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त की है। मृतक सांकरा, बल्दीडीह और ग्राम अंसुला के रहने वाले थे। सभी दर्शनार्थी नुआपाड़ा के निकट स्थित कोमना गए हुए थे और वहां मंदिर में दर्शन-पूजन करने के पश्चात बोलेरो वाहन में वापस लौट रहे थे। इसी दौरान एक तेज रफ्तार ट्रक से उनके वाहन की जोरदार भिड़ंत हो गई। हादसे में बोलेरो में सवार सभी दस लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। डॉ. रमन सिंह ने मृत आत्माओं की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना करते हुए शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना जताई है।

Share This Post

Post Comment