सोशल मीडिया को महिलाओं के खिलाफ अश्लीलता का अड्डा बना चुका…

नालंदा, जोगाराम : महिला सम्मान के लिए जन्तर मंतर पर मार्च करने वाले तेजस्वी यादव का ख़ासमख़ास नेता रफीक सोशल मीडिया को महिलाओं के खिलाफ अश्लीलता का अड्डा बना चुका था। रफीक किसी महिला की फोटो को फेसबुक पर देखता तो वहीं अश्लीलता फैलाना शुरू कर देता। मामला बिहार के नालंदा का है जहाँ के राजगीर थाना पुलिस ने फेसबुक पोस्ट पर अश्लील कमेंट और युवती के साथ छेड़खानी करने के आरोप में आरजेडी नेता रफीक आलम को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने रफीक आलम पर छेड़खानी करने, अश्लील कमेंट करने और मारपीट करने का मामला दर्जकर जेल भेज दिया। रफीक राजगीर आरजेडी का नगर अध्यक्ष है।
आरोप है कि रफीक आलम ने सफेद कुर्ते की हनक दिखाने के लिए युवती के साथ राह चलते छेड़खानी और मारपीट की. दरअसल, राजगीर निवासी एक युवती ने रक्षाबंधन के अवसर पर अपने मुंह बोले भाई को राखी बांधी थी और उस तस्वीर को फेसबुक पर पोस्ट किया था। इसके बाद आरजेडी नेता रफीक आलम ने इस फोटो पर कमेंट किया था, जोकि अश्लील था। इतना ही नहीं, आरोपी आरजेडी नेता ने पीड़ित युवती से छेड़खानी भी की। इस घटना के बाद युवती ने स्थानीय थाना में शिकायत दर्ज कराई। इसके बाद पुलिस ने फेसबुक आईडी के जरिए आरोपी रफीक आलम को गिरफ्तार कर लिया तथा रफीक को हिरासत में लेकर जेल भेज दिया। पीड़ित युवती ने बताया, ‘मैंने अपने मुंह बोले हिंदू भाई को राखी बांधी थी और इसकी तस्वीर फेसबुक पर पोस्ट की थी। इस पर रफीक आलम भद्दे कमेंट करने लगा। जब मैंने इसकी शिकायत पुलिस में की, तो उसने मुझे न सिर्फ जान से मारने की धमकी दी, बल्कि मेरे साथ छेड़खानी भी की.’ बताया जा रहा है कि राजगीर नगर के आरजेडी अध्यक्ष रफीक आलम को पुलिस ने मखदुम कुंड के पास से गिरफ्तार किया।

Share This Post

Post Comment