कांग्रेस अपने कुकर्मों को क्यों भूल जाती है ?

राजकोट, हार्दिक हरसौरा : 1991 के लोकसभा चुनाव हो रहे थे 2 चरणों के चुनाव हो चुके थे और 5 चरणों के चुनाव बाकी थे उसी दरमियान राजीव गांधी की श्रीपेरंबदूर में हत्या हो गई …सोनिया गांधी ने राजीव गांधी की अस्थियों के 360 कलश बनवाएं और उन एरिया में भेजा जहां पर चुनाव होने बाकी थे..कांग्रेसी राजीव गांधी की अस्थियों को गांव-गांव लेकर जाते थे जगह-जगह दर्शन कार्यक्रम रखते थे यहां तक कि कांग्रेसी बूथ तक राजीव गांधी के अस्थि कलश को ले गए थे । आज जब अटल जी की सम्मान के साथ अस्थि कलश यात्रा निकल रही है तो कांग्रेस अपनी पुरानी की हुई हरकतों को याद और तमाशा कर रही है।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Share This Post

Post Comment