निरंकारी सद्गुरू माता सविंद्र हरदेव जी महाराज ब्रहमलीन!

d
मुक्तसर, अमृतपाल : मलोट। संत निरंकारी मिशन के ब्रहमलीन बाबा हरदेव सिंह जी महाराज की धर्मपत्नी व 5वें सद्गुरू माता सविंद्र हरदेव जी महाराज ने अपने नश्वर शरीर को त्याग कर अपनी दिव्य यात्रा को संपन्न किया। वह गत् अढ़ाई वर्ष से कैंसर से पीड़ित थी परंतु इसके बावजूद उन्होंने मिशन को आगे बढ़ाने हेतु दिन-रात कार्य किया। उन्होंने अपनी बीमारी को देखते हुए 17 जुलाई को अपनी समूह शक्तियां अपनी छोटी बेटी सुदीना जी को दे दी थी उन्होंने अपनी अंतिम सांस सांयः तकरीबन सवा पांच बजे ली उनके ब्रहमलीन होने पर संगत में भारी शोक की लहर दौड़ गई। हजारों की संख्या में श्रद्धालु देश-विदेश से दिल्ली पहुंचने शुरू हो गए है। अंतिम संस्कार 8 अगस्त को दिल्ली में किया जाएगा। सद्गुरू निरंकार से प्रार्थना है कि हम सभी को धीरज दें ओर सांत्वना दे।

Share This Post

Post Comment