हाल-ए-रिम्‍स : ऑक्‍सीजन के लिए रिम्‍स के बाहर एंबुलेंस..

yyy

रांची, निखिल गोयल : हाल-ए-रिम्‍स-ऑक्‍सीजन के लिए रिम्‍स के बाहर एंबुलेंस में तड़पता रहा मरीज। अगर कोई गरीब बीमार पड़ जाए तो उसे क्या-क्‍या मुसीबतों का सामना करना पड़ता है उसकी जीती जागती तस्वीर देखिये रांची के ही मेनरोड स्थित कलाल टोली के रहने वाले मरीज का पहले तो निजी अस्पताल ने दो दिनों में 96 हजार का बिल बना दिया और जब मरीज के पास देने को पैसे खत्म हो गए तो उसे रिम्स रेफर कर दिया मगर परेशानी फिर भी खत्म नहीं हुई। रिम्स आते ही मरीज को आधे घंटे तक एम्बुलेंस में ही ऑक्सीजन के लिए इंतजार करते रहना पड़ा। रिम्स में ईलाज के लिए आने वाले गंभीर रूप से बीमार मरीजों को ऑक्सीजन तक समय पर नहीं मिल रहा। ऐसी स्थिति राज्‍य के सबसे बड़े अस्‍पताल रिम्‍स की है।

Share This Post

Post Comment