खाद्य सुरक्षा अधिनियम के अन्तर्गत 30 प्रकरणों में एक लाख 77 हजार रूपये का जुर्माना लगाया

सीकर, विकास शर्मा : अतिरिक्त जिला कलेक्टर न्यायालय ने खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम 2006 व नियम 2011 के तहत खाद्य वस्तुओं में अमानक पाये जाने पर अप्रेल 2017 से 14 जून 2018 तक 30 प्रकरणों के निर्णयों में एक लाख 77 हजार रूपये का जुर्माना लगाया हैं। अतिरिक्त जिला कलेक्टर जयप्रकाश ने बताया कि सरकार बनाम रविन्द्र कुमार उर्फ बन्टी अग्रवाल के प्रकरण रिफाईन्ड सोया तेल में 6 हजार रूपये, सरकार बनाम भोपाल सिंह डेजर्ट फ्रीजन में 6 हजार रूपये, सरकार बनाम शशिकान्त स्वामी रबड़ी 8 हजार रूपये, सरकार बनाम मूलचन्द सैनी सोन पापड़ी 7 हजार रूपये, सरकार बनाम मुरारीलाल रिफाईन्ड पाम तेल, सरकार बनाम राजेश शर्मा, सरकार बनाम रामप्रताप सैनी, सरकार बनाम राजीव पिगोरिया, सरकार बनाम मोहन लाल , सरकार बनाम रवि कुमावत, सरकार बनाम प्रवीण सैनी, सरकार बनाम किशन लाल, सरकार बनाम प्रहलाद यादव के ग्रीन चीली सोस, न्यूडलस, एपल ज्यूस, मिक्स दूध, बेसन, गाय का दूध, पनीर, के प्रकरणों मे 5-5 हजार रूपये, सरकार बनाम राजकुमार लाल मिर्च पाउडर व सरकार बनाम ओमप्रकाश गाय का दूध 10-10 हजार रूपये सरकार बनाम ओमप्रकाश गाय का दूध, सरकार बनाम अमित हल्दी पाउडर, लाल मिर्च पाउडर, सरकार बनाम योगेश धनिया पाउडर, सरकार बनाम रामावतार सैनी गाय का दूध के प्रकरणों में तीन-तीन हजार रूपये, सरकार बनाम नर्रे‍द्र, मीडियम फेट फीजन डेजर्ट 5 हजार रूपये, सरकार बनाम गोपाल राम मीडियम फेट फीजन डेजर्ट 3 हजार रूपये , सरकार बनाम अनुज गाय का घी 20 हजार रूपये, सरकार बनाम सुभाष चन्द मिक्स दूध, सरकार बनाम सुभाष चन्द्र मिक्स दूध, सरकार बनाम सुभाष चन्द गाय का दूध, सरकार बनाम परमानन्द गाय का दूध, सरकार बनाम देवीलाल सैनी सोहन पापडी, सरकार बनाम नरेन्द्रे सिंह खोआ (मावा) के प्रकरणों में 5-5 हजार रूपये की तथा सरकार बनाम उम्मेद सिंह खोआ के पेडे अमानक पाये जाने पर 10 हजार रूपये का जुर्माना लगाकर प्रकरणाें का निस्तारण कर उपभोक्ताओं को राहत प्रदान की है।

Share This Post

Post Comment