नगरपालिका की लापरवाही ने ली राज्य पशु ऊँट की जान

फतेहपुर, विकास शर्मा : गंदगी से अटे नालें मे गिरा ऊँट की हुई मौत। मंण्डावा रोड़ तीन कोठी के सामनें की घटना। ऊँट मालिक का रो—रो कर बुरा हॉल एक मात्र रोजी रोटी का सहारा था ये ऊँट मौके पर लोग की नगरपालिका के खिलाफ नाराजगी नालें को ढकने व मुआवजें की मांग। फतेहपुर शेखावाटी कस्बें की नगरपालिका की लापरवाही ने र​विवार शाम को राजस्थान के राज्य पशु की जान ले ली खुले नालें होने के कारण मण्डावा रोड़ तीन कोठी के सामने ऊँट नाले मे गिरा फिर कुछ देर बात तड़फनें के बाद उसकी मौत हो गई ऊँट की मौत के बाद उसके मालिक गिरधारीलाल गुर्जर का रो—रो कर बुरा हाल है उसने ​कंहा कि एकमात्र आजीविका कमानें का सहारा ऊँट ने खुले नाले ने जान ले ली। मुआवजे की मांग की वही मौके पर लोगों ने नगरपालिका के खिलाफ आक्रोश व्यक्त करते हुए मांग की शीतला स्कूल ये तीन कोठी तक के नालों को ढ़का जाये आये दिन इस नालें मे जानवर व आम आदमी गिरते रहते है वही ऊँट मालिक के मुआवजे की मांग कर रहे है। राजस्थान की राज्य सरकार ने 30 जून 2014 को ऊंट को राज्य पशु घोषित किया यह कदम राज्य में ऊंटों की कम होती संख्या की जांच करने के लिए उठाया गया है वही दूसरी ओर फतेहपुर मे ऐसे होतें हादसें बड़ी लापरवाही है।

Share This Post

Post Comment