सरकार को लोगों के हित देखते हुए, तुरंत तेल के दाम कम करने चाहिए : निर्मल सिंह नोर्थ 

 

66

मोहाली (कुराली), गुरसेवक गुरी : देश में तेल के दाम दिन प्रतिदिन चढ़ते जा रहे हैं। सरकार ने अभी तक कोई कदम उठाने से इंकार दिया है। सरकार का कहना है कि यह बाजार की दिशा के हिसाब से तय हो रहा है क्योंकि अब यह तेल कंपनियों पर निर्भर है कि वह अंतरराष्ट्रीय बाजार के हिसाब से तेल की कीमत पर देश में तेल के दाम तय कर रही हैं। इस बारे में बोलते हुए इंडियन नेशनल कांग्रेस संगठन जिला प्रधान निर्मल सिंह नोर्थ ने कहा कि सरकार को लोगों के हित देखते हुए तुरंत तेल के दाम कम करने चाहिए। नोर्थ ने कहा कि मोदी सरकार की ख़ामोशी बता रही है जैसे पेट्रोल के दाम बढ़े नहीं, बल्कि काफी घट गए हो। इन्होंने कहा कि  2013-14 के साल जितना अंतर्राष्ट्रीय बाज़ारों में कच्चे तेल की कीमत अभी उछली भी नहीं है लेकिन उस दौरान बीजेपी ने देश को पोस्टरों से भर दिया था बहुत हुई जनता पर डीज़ल पेट्रोल की मार, अबकी बार बीजेपी सरकार. तब जनता भी आक्रोशित थी। कारण वही थे जो आज केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान गिना रहे थे। तब की सरकार के बस में नहीं था, अब की सरकार के बस में नहीं है। मगर राजनीति में जिस तरह से कुतर्कों को स्थापित किया गया है, वही कुतर्क लौट कर बार बार बीजेपी के नेताओं को पूछ रहे हैं। पेट्रोल की कीमत रिकार्ड स्तर पर है फिर भी मोदी सरकार चुप है ।

Share This Post

Post Comment