गेहूं घोटाला: करोड़ों के गबन की आरोपी निलंबित आईएएस निर्मला मीणा ने किया सरेंडर

जोधपुर, विकास शर्मा : आईएएस निर्मला मीणा ने बुधवार सुबह जोधपुर एसीबी के समक्ष सरेंडर कर दिया। करीब 1:15 बजे निर्मला मीणा एसीबी के जयनारायण व्यास मुख्य कार्यालय के पास स्थित चौकी पहुंची और अपने अधिवक्ता के साथ एसीबी उपाधीक्षक जगदीश सोनी के समक्ष सरेंडर किया।  एसीबी के एसपी अजयपाल लांबा ने बताया कि करीब 35000 क्विंटल राशन के गेहूं के गबन के मामले की जांच में आईएएस निर्मला मीणा को दोषी पाया गया था और इसके बाद से ही वह फरार चल रही थी निर्मला मीणा ने हर स्तर पर राहत पाने का प्रयास किया लेकिन हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट से अग्रिम जमानत याचिका खारिज होने के बाद आज उन्होंने आत्मसमर्पण किया है। उन्होंने बताया कि इस मामले में फैक्ट्री मालिक स्वरूप सिंह पूर्व में गिरफ्तार हो चुका है और दो अन्य आरोपी हैं उनकी गिरफ्तारी की भी कोशिश की जा रही है। अजय पाल ने बताया कि निर्मला मीणा के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति का एक अन्य मामला दर्ज है जिसकी अनुसंधान अलग अधिकारी कर रहे हैं उन्होंने बताया कि आय से अधिक संपत्ति मामले में उनके पति को भी आरोपी बनाया गया है।

Share This Post

Post Comment