बिजली दर बढ़ोतरी के विरुद्ध युवा संघर्ष मोर्चा द्वारा लालटेन और कैंडल मार्च

धनबाद, निखिल गोयल : राज्य सरकार द्वारा बिजली दर बढ़ोतरी के विरुद्ध युवा संघर्ष मोर्चा द्वारा लालटेन एवं कैंडल मार्च निकाला गया। राज्य सरकार द्वारा बिजली दर में लगभग 98 प्रतिशत की बढ़ोतरी के विरुद्ध आज शाम युवा संघर्ष मोर्चा जनवादी के केंद्रीय संयोजक दिलीप सिंह के नेतृत्व में रणधीर वर्मा चौक पर कैंडल मार्च निकाला गया इस दौरान युवाओं ने कैंडल के साथ-साथ लालटेन जला कर सरकार के प्रति अपना विरोध प्रदर्शित किया। मोर्चा के नेता दिलीप सिंह ने कहा कि घरेलू दर में अप्रत्याशित बढ़ोतरी रोजमर्रा के जीवन पर बहुत गहरा प्रभाव डालेगी। बढ़ती महंगाई के इस दौर में बिजली दर में 98% की बढ़ोतरी मध्यम एवं गरीब किसान वर्ग के लिए कमर तोड़ने का काम करेगी, लोग अपने बच्चों की शिक्षा में खर्च करेंगे, इलाज में खर्च करेंगे, घर की रोजमर्रा की जरूरतों को पूरी करने में खर्च करेंगे, की सरकार द्वारा कथित रूप में मुफ्त देने वाली बिजली की बढ़ी हुई दर का भुगतान करेंगे। समस्या दिन प्रतिदिन गंभीर होती जा रही है और सरकार महंगाई के प्रति अपना निराशाजनक व्यवहार प्रस्तुत कर रही है। अगर बढ़ा हुआ दर वापिस नहीं किया गया तो लालटेन युग आने में देर नहीं है। आपको बता दें कि झारखंड राज्य विद्युत नियामक आयोग ने शुक्रवार को बिजली के दरों में बढ़ोतरी की बात कही थी। नए दरों के अनुसार 200 यूनिट से ज्यादा बिजली उपभोग करने पर प्रति यूनिट 5.50 पैसे का भुगतान करना होगा। फिलहाल यह दर 3 के करीब है हीं घरेलू बिजली की दरों में 98% की वृद्धि की गई है कमर्शियल बिजली की दरों को 7% बढ़ाया गया है। बिजली विभाग की ये नई दरें 1 मई से लागू हो जाएंगी. संभावना जताई जा रही है कि सरकार सब्सिडी देकर घरेलू उपभोक्ताओं की परेशानी को कम करने की कोशिश करेगी।

Share This Post

Post Comment