वसई नरविर चिमाजी आप्पा मैदान में होगी महासभा भ्रष्टाचार का होगा पर्दाफाश

2345

मुंबई, नजीर मुलाणी : पालघर जिला में, वसई नरविर चिमाजी आप्पा मैदान में होगी महासभा मनसे कार्यकर्ता में खुशी का माहोल भ्रष्टाचार का होगा पर्दाफाश। मनसे के अध्यक्ष-राजसाहब ठाकरे वसई:राज साहब का महाराष्ट्र में दौरा और महासभा है तो विरोधकांची नींद और होश उड जाते है, राजसाहब कोनसा मुद्दा उठाते है? हमेशा भ्रष्टाचार लोगों का डर लगा रहता है। राज साहब जो बोल देते है वह करके दम लेते है, राजसाहब के पदाधिकारी या कार्यकर्ता पर किसी ने भी अत्याचार किया, तो उसको भारी पड जाता है। लोगों के हित का ही हमेशा सोच के कदम उठाते है। वसई में वागराळ पाडा में शासन की जगह हडप कर  भूमाफिया धारा और रंधा 3 साल से कर रहे बांधकाम उसको कोई रोक नही है। जब मनसे ने शासन की जगह को अपने कब्जे में ले लो, यह काम प्रांत, तहसीलदार, वनविभाग खाते और महानगरपालिका भ्रष्टाचार वाले को र्स्पोट करती है। इनको सब पता होता है, लेकिन भ्रष्टाचार वालों को बढावा देना अच्छा आता है। सच्चाई पर लड़ने वाले पर गुनाह दाखिल होता है, धारा और रंधा सिंग खुल्ले आम भ्रष्टाचार कर रहे है। गुंड शाही के सामने घुटना टेकते है, भ्रष्टाचार करो आजाद रहो, मनसे के तालुका अध्यक्ष-जयेंन्द्र पाटिल इन्होने भ्रष्टाचार का पर्दाफाश किया तो तहसीलदार ने 11 जन पर गुनाह दाखिल किया उसमे एक को आरोपी बनाया उसको पेरालाइज हुआ है। वो खुद चल नही सकता, उसको आदालत मे लेकर गए तो जजसाहब ने पुलिस से पूछा यह आदमी धक्का बुक्की कर सकता है क्या? यह खुद चल नही पाता उसका नाम है , विवेक केलुस्कर यह खुद उस दिन अपने घर पर बेड पर था। डॉक्टर का स्टेटमेंन्ट चालू है, यहा की पुलिस कुछ भी नही जानकारी लेती है, सीधा गुनाह दाखिल करती है, धंधे पर लगा देती है। कुछ पूछना है, कुछ करना है, कोर्ट में जब हमारा काम हमने किया, यहा पर भी गुंडागिरी भ्रष्टाचार है, क्या करे? इस वजह से क्रॉईम हो जहाँ है। वसई गाव पुलिस ठाणे में बिना पुछे FIR की जाती है, यह खबर Pi को भी पता नही चलती है, पूछे तो मुझे पता नही है, मैं देखता हूं यह बोल देता है, यहा की पुलिस किस बेस पर काम करती है? यह समझ में नही आता है। लोगों को भ्रष्टाचार वाला कौन, Pi माने इनका वसई जनता पर नाफार्मानी होती जा रही है। यहा के अधिकार हवालदार के हाथ में है (मोहरा फिल्म) की जैसी एक्टिंग मनसे के ऊपर झूठे गुन्हे दाखिल किए गए, और (आय) विभाग में भी ऐसे ही झूठे गुनाह दाखिल किए, गुन्हा दाखिल करने वाला महानगरपालिका का अवल लिपिक बाळाराम साळवी खुद का भ्रष्टाचार ओपन ना हो। इसलिए 3 पत्रकारो पर गुन्हा दाखिल किया इसमे भी पुलिस का बडा योगदान, उस वक्त Pi माने चुप [आदेश हवालदार के] जो उस वक्त मौजूद नही है, जिन को कुछ भी पता नही आई विटनेस बनाया गया। उस वक्त वो कहा था, वो जानकारी की नहीं जाती, पुलिस अपना उल्लू सीधा करती है। झूठा पेपर लिखवाकर करने का काम खत्म कार्ट को जवाब दो, सब जगह पर भ्रष्टाचार हो रहा है, भ्रष्टाचार कैसे खत्म होगा? महाराष्ट्र में आवाज उठाने वाला एक ही नेता है जो राजसाहब ठाकरे अंदोलन भ्रष्टाचारा विरोध मे चलता है, हक के लिए लडता है, महाराष्द्र में हक से जीना होगा तो राजसाहब का राज लाना होगा।

Share This Post

Post Comment