मनसे ने कारवाई करने के लिए तहसीलदारने कार्यालय में बुलाकर मनसे के तालुका अध्यक्ष ,जयेंद्र पाटील ने जवाब मांगा तहसीलदार जवाब देने में नाकामयाब कोमा में जाने का किया नाटक

Tehsildar

मुंबई, नजीर मुलाणी : मनसे ने कारवाई करने के लिए तहसीलदारने कार्यालय में बुलाकर मनसे के तालुका अध्यक्ष ,जयेंद्र पाटील ने जवाब मांगा तहसीलदार जवाब देने में नाकामयाब कोमा में जाने का किया नाटक मनसे पदाधिकारी के ऊपर झूठा इल्जाम लगाकर गुना दाखिल किया वसई:[वसई तहसील कार्यालय के सामने धरना आंदोलन मनसे 6दिन से ]वसई तालुका कार्यालय के सामने धरना मनसे ने भरी हुक्कार
भुमाफिया रंधा . पर मोक्का लगाओ
वसई तहसीलदार कार्यालय पर बेमुद्दत मनसे का धरना ,आंधोलन
वसई तालुका मे सरकारी जमीन बेच के खा रहे है सरकारी आधिकारी
– वसई विरार शहर महानगर पालिका के भ्रष्ट अधिकारियों के आशीर्वाद से भुमाफियाओ की चादी ही चादी है ऐसे ही नालासोपारा के एक भुमाफिया रंधा सिह है कानुन को ताक पर रख कर वसई ईस्ट भोईदापाडा मे आश्रम के पिछे भारी पैमाने पर चालियो का साम्राज्य खडा किया है कहे तो एक जिला बना दिया है लेकिन मनपा के भ्रष्ट अधिकारी अपना हिस्सा लेकर कुभंकरण के निद मे सो जाते है वही मनपा द्रारा पाले गये रंधा सिंह ने भोईदापाडा , राजावली , टिवरी मे सरकारी जगह वन विभाग , गुरुचरण , आदीवासी जगहो पर भी चालियो का साम्राज्य खडा किया है तथा नदी नालो , पहाडो को भी नस्ट कर चालिया बनाया जा रहा है वही वन विभाग के अधिकारी , तहसीलदार भ्रष्ट मनपा के अधिकारी चुप है जब स्थानीय नेताओ या सामाजिक कार्यकर्ता द्रारा शिकायत की जाती है तो ऐ भ्रष्ट अधिकारियों की निंद खुलती है ऐसे ही गत दिनो भोईदापाडा मे मनपा के अधिकारी रंधा सिहं की चालियो को तोडने गये थे किन्तु रंधा सिंह द्रारा पाले गये गुन्डो ने भ्रष्ट अधिकारियों की जम कर पिटाई की और सरकारी गाडीयो को आग के हवाले कर दिया तब ऐ भ्रष्ट अधिकारी वहा से दुम दबाके भागे , स्थानीय नागरिकों का कहना था कि जब ए चालिया बनी तब कहा थे ए भ्रष्ट अधिकारी जब गरीब नागरिक घर खरीद लिए तब ए तोडने आये वही सरकारी जमीन पर बने चालियो को हटाने और भुमाफिया रंधा सिंह पर मोक्का लगाने की मांग को लेकर मनसे ने वसई तहसीलदार कार्यालय पर धरना आन्दोलन 15 मार्च से किए है अब देखना ऐ है कि भुमाफिया पर मोक्का लगता है या अधिकारियों के संरक्षण मे खुलेआम घुमता है भुमाफिया ।

Share This Post

Post Comment