वन सुरक्षा पर आधारित मुवी के पोस्टर का विमोचन

film

रिपोर्टर शवर्ण जोधपुर-ये जो फिल्म है वो बिश्नोई समाज पर आधारित है इसमे जो अमृता देवी का जिक्र हुआ है वो सन 1787 मंगलवार के दिन की घटना है जोधपुर के महाराजा अभय सिंह के किले की मरमत के लिये कोयला की जरूरत पड़ी तो जोधपुर के साइड गांव खेजड़ली में बिश्नोई यो के गांव थे और ऊस गांव में खेजड़ी नाम के वर्क्स ज्यादा थे तो राजा ने अपने सेना के सेनापति गिरधर सिह भंडारी को ऑडर दिया की खेजड़ली गांव जाओ और खेजड़ी के पेड़ काट लाओ , उस ऑडर पर सेनापति सेना के साथ वा गया और वा पेड़ काटने लगा तो वा जो लोग थे वो श्री जांभोजी के भग्त थे और हरे वर्क्स & वन्य जीवों की रक्षा करने वाले थे उन्होने बोला की हम हरे वर्क्स नही काटने देगे तब सेना पति बोला की राजा का हुक्म है और हम काटेंगे और ऐसा कहकर पेड़ काटने चालू कर दिए, तब पहली पेड़ के साथ कटने वाली महिला थी माँ अमृता देवी और उसके साथ 363 लोग पेड़ो के चिपक कर शहीद हो गये उस पर आधारित फिल्म बन्हि है उसका पोस्टर विमोचन हुआ और फिल्म रिलीज हुई नही है कुछ अड़चन हो रही है.

Share This Post

Post Comment