गोण्डा श्रम विभाग द्वारा संचालित सामूहिक विवाह में आज हिन्दू-मुस्लिम सौहार्द की मिसाल बनी राम जानकी धर्मशाला, 32 जोड़ों का हुआ सामूहिक विवाह

रिपोर्टर श्यामबाबू कमल गोंडा उत्तर प्रदेश-गोंडा मंगलवार को नगर के बड़गांव मंे स्थित राम जानकी धर्मशाला हिन्दू-मुस्लिम सौहार्द की एक अनूठा मिशाल बनी जहां 28 हिन्दू व 04 मुस्लिम समुदाय सहित 32 जोड़ो का सामूहिक विवाह एक ही मण्डप के नीचे हुआ। पहली बार ऐसा हुआ जब किसी मन्दिर में मौलाना ने निकाह पढ़ा।

गोंडा श्रम विभाग द्वारा संचालित कन्या विवाह सहायता योजना के तहत जिले के 32 गरीब कामगीर परिवारों की कन्याओं के हाथ पीले हुए। उपश्रमायुक्त शमीम अख्तर के प्रयासों से राम जनाकी धर्मशाला में भव्य सामूहिक विवाह कार्यक्रम आयोजित हुआ। विधायक सदर प्रतीक भूषण ने बतौर मुख्य अतिथि, जिलाधिकारी व सीडीओ ने बतौर विशिष्टि पहुंचकर सभी नव वर-वधुओं को आशाीर्वाद दिया तथा उनके सुखमय जीवन की कामना और बधाई भी दी। विधायक सदर प्रतीक भूषण सिहं ने इस अवसर पर कहा कि आज का दिन ऐतिहासिक है क्यांेकि किसी हिन्दू मन्दिर में पहली बार मुस्लिम समुदाय के लोग परिणय सूत्र में बंध रहे हैं जो कि आपसी भाई-चारा बढ़ाने के लिए किसी मिसाल से कम नहीं। उन्होने कहा कि समाज में साम्प्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने वालों के लिए करारा जवाब है। मन्दिर प्रांगण में ही मौलाना ने निकाह कुबूल कराया तो वहीं पुरोहितों ने 28 वर-कन्याओं को परिणय सूत्र में बंधवाया।

उपश्रमायुक्त देवीपाटन मण्डल ने बताया कि सरकार द्वारा इस योजना के तहत पचपन हजार रूपए, तीन हजार रूपए चिकित्सा सहायता हेतु तथा 23 जोड़ों को शौचालय हेतु 12-12 हजार रूपए की आर्थिक सहायता सहित प्रत्येक जोड़े को सत्तर हजार रूपए की सहायता राशि प्रदान की गई। विधायक सदर , डीएम जेबी सिंह, सीडीओ  दिव्या मित्तल द्वारा सभी नव दम्पतियों को शादी प्रमाणपत्र व सहायता राशि की स्वीकृति पत्र प्रदान किए गए।

इस अवसर पर सांसद कैसरगंज प्रतिनिधि संजीव सिंह, सभासद रानी बाजार विशाल अग्रवाल, विकास अग्रवाल, अनिल मित्तल, मुकेश उर्फ चिन्टू अग्रवाल, गोपाल अग्रवाल, संजय अग्रवाल सहित अन्य गणमान्य एवं अधिकारी तथा वर-वधू के परिजन उपस्थित रहे।

eb948cb0-462f-493c-96cb-e783162f0db9 d52ae7fc-1085-42c5-82da-6b511962dc22

 

Share This Post

Post Comment