कोयला खदान बंद करने के विरोध में मजदूरो का विरोध प्रदर्शन

कोरिया, छत्तीसगढ़/संजय चक्रवर्तीः छत्तीसगढ़ के कोरिया जिले के चिरिमिरि के हल्दीबाड़ी स्थित एसईसीएल के एनसीपीएच कोलेरी के आर 2 माईन्स को बंद करके यहाँ के कार्यरत 225 कर्मचारियो कोबैकुंण्ठ पुर एरिया के कटगोडि माईन्स में भेजने का आदेश् जारी किया। इस निर्णय के विरोध में श्रमिकों ने आंदोलन शुरु कर दिया। प्राप्त जानकारी के अनुसार चिरमिरी के एसईसीएल के क्षेत्र एनसीपीए कोलेरी के आर 2 माईन्स के अचानक बंद होने से कर्मचारियों में दहशत फैल गई, सभी कर्मचारी माइंस के बाहर नारे लगाने लगे माइंस में करीब-करीब 275 मजदूर कायदा थे। जिसमें लगभग 225 मजदूरों का स्थानांतरण बिना सूचना के कर दिया गया।  ट्रांसफर लिस्ट में कुछ ऐसे भी मजदूर हैं जिन्हें गंभीर रूप से बीमारी से ग्रस्त हैं एवं उनका इलाज बिलासपुर रायपुर शहर में चल रहा है। यहां के अधिकारियों का कहना है कि यह फैसला जेसीसी मेंबर के चर्चा के बाद ही यह निर्णय लिया गया है। यह खदान घाटे में चलने के कारण यहां के मजदूरों को बैकुंठपुर ट्रांसफर कर दिया गया है। यहां की सभी खदानें बंद होने से यहां के कर्मचारियों में नफरत सी फैल गई है और मजदूरों में नाराजगी व्याप्त है। अचानक ट्रांस्पर् लिस्ट निकलने से मजदूरों में व्यापक आक्रोश है मजदूरों का कहना है कि खदान अभी कुछ और साल चलती मगर अधिकारियों ने बिना सोचे समझे या खदान को बंद कर दिया।

Share This Post

Post Comment