खेत में मिला 15 साल की किशोरी का शव

गौतमबुद्धनगर, उत्तर प्रदेश/नगर संवाददाताः भोजपुर थाना क्षेत्र के एक गांव में सोमवार को 15 वर्षीय किशोरी की गला घोंटकर हत्या कर दी गई। आशंका है कि हत्या से पहले किशोरी के साथ दुष्कर्म भी किया गया था। उसका शव ईख के खेत में नग्न अवस्था में पड़ा मिला। परिजनों ने एक युवक के खिलाफ हत्या की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कराई है। 15 वर्षीय किशोरी सोमवार सवेरे पथवारे में गोबर डालने में लगी थी। एक बार वापस आकर दूसरी बार गोबर लेकर गई किशोरी जब दो घंटे बाद भी वापस नहीं आई तो परिजनों ने उसकी तलाश शुरू कर दी। परिजनों ने पथवारे में जाकर देखा तो किशोरी जिस तसले में गोबर लेकर गई थी, वह पास के ईख के खेत की मेंढ़ पर खाली मिला। प्लास्टिक के कट्टे की पल्ली भी उसी के पास थी। थोड़ी दूरी पर किशोरी की चप्पल भी मिली। इसके बाद परिजनों की चिंता बढ़ गई। परिजनों की सूचना पर सैंकड़ों ग्रामीण मौके पर पहुंच गए। इसकी जानकारी मिलते ही पुलिस भी घटनास्थल पर पहुंच गई। ग्रामीणों के साथ मिलकर पुलिस ने 10-12 बीघा ईख के खेत में उसकी तलाश की, लेकिन उसका कोई पता नहीं चला। बाद में किशोरी को पास वाले ईख के खेत में तलाशा गया। दो घंटे से अधिक की मशक्कत के बाद किशोरी ईख के खेत के करीब 10 मीटर अंदर नग्न हालत में मिली। किशोरी के सिर व शरीर पर कई गंभीर चोटों के निशान थे। आशंका है कि किशोरी के सिर में डंडा या कोई भारी वस्तु भी मारी गई थी। आंखे बाहर व गले पर गंभीर चोट होने से साफ था कि किशोरी का गला भी घोंटा गया था। शरीर पर कपड़े नहीं होने के चलते आशंका जताई जा रही है कि किशोरी के साथ दुष्कर्म भी किया गया है। छानबीन के बाद पुलिस ने किशोरी के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। फॉरेंसिक टीम ने घटनास्थल से चप्पल, खून आदि साक्ष्यों का संग्रह किया है। एसपी देहात अरविंद मौर्य, सीओ राजकुमार सिंह, थाना प्रभारी रामेश्वरदयाल ने भी घटनास्थल का निरीक्षण कर अधीनस्थों को जरूरी दिशा निर्देश दिए। इस मामले में पीड़ित परिजनों ने गांव के एक युवक के खिलाफ हत्या की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कराई है। पुलिस ने मामले में गांव के पांच-छह युवकों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है। पुलिस अधिकारी का कहना है कि दुष्कर्म या सामूहिक दुष्कर्म की बात पोस्टमार्टम रिपोर्ट में स्पष्ट होगी। फिलहाल परिजनों की शिकायत पर हत्या की धाराओ में रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। एसपी देहात ने बताया कि मामले में कई सुराग पुलिस के हाथ लगे हैं। जल्द आरोपियों की गिरफ्तारी सुनिश्चित होगी। किशोरी आठ भाई बहनों में सबसे छोटी थी। परिजनों का आरोप है कि नामजद किए गए पवन ने कुछ दिन पहले किशोरी के साथ छेड़छाड़ भी की थी। इसलिए उसी ने इस घटना को अंजाम दिया है।

Share This Post

Post Comment