प्रशासन द्वारा राज्य स्तरीय समागम की तैयारिया जारी

रूपनगर, पंजाब/अमित शर्माः खालसा पंथ के संस्थापक दशमपिता श्री गुरु गोबिन्द सिंह जी को श्रद्धा और सत्कार भेंट करते हुए, पंजाब सरकार द्वारा महान संत सिपाही के 350वें प्रकाश पर्व के अवसर पर श्री आनंदपुर साहिब के तख्त श्री केसगढ़ साहिब के सामने वाले मैदान में एक बहुत ही विशाल एवं प्रभावशाली समारोह 24 दिसंबर को राज्य स्तर पर करवाया जा रहा है। जिसमें देश के पूर्व प्रधानमंत्री डा. मनमोहन सिंह और पंजाब के मुख्य मंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह विशेष तौर पर पहुंच रहे हैं। यह जानकारी राणा कंवर पाल सिंह माननीय स्पीकर पंजाब विधान सभा ने आज यहां एस.डी.एम. कार्यालय के कमेटी रूम में एक उच्च स्तरीय मीटिंग दौरान दी। इस बैठक में मुख्यमंत्री पंजाब के राजनीतिक सलाहकार कैप्टन संदीप सिंह संधू, सचिव पर्यटन श्री विकास प्रताप, डायरैक्टर पर्यटन श्री शिवदुलार सिंह ढिल्लों, डिप्टी कमिशनर रूपनगर श्रीमती गुरनीत तेज़ और जि़ला पुलिस प्रमुख श्री राज बचन सिंह संधू उपस्थित थे। राणा के.पी. सिंह ने बताया कि पंजाब सरकार द्वारा राज्य स्तरीय समागम का आयोजन किया जा रहा है जिसमें प्रसिद्ध पंजाबी गायक गुरदास मान, शास्त्रीय गायक पंडित राजन-साजन मिश्रा, पुरातन शैली के रागी भाई बलदीप सिंह, प्रसिद्ध संगीतकार डा. निवेदिता सिंह, ढाडी जत्था देशराज लचकानी और पार्टी प्रसिद्ध सिख विद्वान भाई अशोक सिंह बागडिय़ा, प्रसिद्ध इतिहासकार डा. इंदु बंागा, प्रसिद्ध पंजाबी कवि श्री सुरजीत सिंह पातर (पद्म श्री) इस समारोह के दौरान अपनी विशेष प्रस्तुति देंगे। उन्होंने यह भी बताया कि इस समारोह से दशम गुरू साहिब के महान जीवन और शिक्षाएं पर आधारित धारावाहिक गोष्ठियां/प्रदर्शनियां लगाईं जाएंगी। उन्होंने इस समारोह को सफलतापूर्वक संपूर्ण करने के लिए आधिकारियों को पूरी लगन और मेहनत के साथ अपनी जिम्मेदारी निभाने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि हम बहुत ही भाग्यशाली हैं जिनको ये शताब्दियां और समारोह मनाने का मौका मिला है। इसलिए अपनी ड्यूटी को केवल फर्ज समझ कर नहीं बल्कि सेवा समझ कर करना चाहिए। उन्होंने कहा कि श्री आनन्दपुर साहिब में पूरा परिवार दानी श्री गुरु गोबिन्द सिंह जी ने अपने जीवन का अधिकतर समय व्यतीत किया था और उनके जीवन के सभी महत्वपूर्ण घटनाक्रम भी श्री आनन्दपुर साहिब में ही घटे हैं। हम उनके प्रकाश पर्व समारोह को श्री आनन्दपुर साहिब में मना रहे हैं जो हमारे लिए बहुत ही गर्व की बात है। अन्य राज्यों में भी प्रकाश पर्व समागम मनाए जा रहे हैं जिनमें शामिल होने वाली संगतों द्वारा उन राज्यों की सरकारों के प्रबंधों और आधिकारियों द्वारा ड्यूटी की सराहना की जाती है। इसलिए हमारी यह जि़म्मेदारी बन जाती है कि गुरू साहिब के इस स्थान पर होने वाला समागम बहुत ही प्रभावशाली हो। राणा के.पी. सिंह ने कहा कि पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह द्वारा इस समागम की तैयारियों संबंधी चंडीगढ़ में भी उच्च स्तरीय मीटिंग की गई है। उनकी ओर से पंजाब सरकार के सीनियर आधिकारियों को यह समागम प्रभावशाली ढंग से मनाने के लिए दिशा -निर्देश दिए गए हैं। बैठक के पश्चात स्पीकर राणा कंवरपाल सिंह और समस्त उच्च आधिकारियों ने समागम स्थल का दौरा करते हुए आधिकारियों को ज़रुरी दिशा निर्देश जारी किये। इस मीटिंग दौरान अन्यों के अलावा श्री लखमीर सिंह अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर (जनरल), श्री रमिंदर सिंह उप पुलिस कप्तान, श्री राकेश कुमार एस.डी.एम. श्री आनंदपुर साहब, श्री हरबंस सिंह सहायक कमिश्नर (जनरल), श्री परमजीत सिंह सहायक कमिश्नर(शिकायतें), श्री सुखदीप सिंह सहायक आबकारी एवं कर कमिश्नर, श्री विशाल गुप्ता और श्री हरविंदर सिंह (कार्यकारी इंजीनियर), श्री सतवीर सिंह जि़ला कंट्रोलर खाद्य व आपूर्ति, श्री भुपिंदर सिंह चाना कार्यकारी इंजी. विरासत -ए -खालसा और अन्य विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

Share This Post

Post Comment