लखनऊ की मार्टिना हत्याकांड में पिता के खिलाफ मामला दर्ज

लखनऊ, उत्तर प्रदेश/नगर संवाददाताः प्रदेश की राजधानी लखनऊ के एसजीपीजीआई थाना क्षेत्र में कल मार्टिना गुप्ता की हत्या के मामले में आज उसकी मां की तहरीर पर मार्टिना के पिता राकेश कुमार गुप्ता के खिलाफ केस दर्ज कराया गया है। एमबीए करने के बाद मार्टिना गुप्ता सिविल सर्विसेज परीक्षा की तैयारी कर रही थी। उसको पिस्टल की पांच गोलिया लगी थीं। मालती ने पुलिस को बताया कि उन्हें आशंका है कि बेटी मार्टिना की हत्या पिता राकेश कुमार गुप्ता ने ही की है। छात्रा मार्टिना गुप्ता की हत्या मामले में उसकी मां की तहरीर पर स्वास्थ्य विभाग से वीआरएस लेने वाले पिता के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। मां ने पुलिस को बताया कि उन्हें आशंका है कि बेटी मार्टिना की हत्या पिता राकेश कुमार गुप्ता ने ही की है। हालांकि कत्ल होते हुए उन्होंने नहीं देखा है। वहीं हत्या के पीछे कारण भी वह नहीं बता सकी हैं। लखनऊ के पीजीआई क्षेत्र की एल्डिको कालोनी में सिविल सर्विस परीक्षा की तैयारी कर रही एक छात्रा मार्टिना गुप्ता की गोली लगने से संदिग्ध हालत में मौत हो गई थी। इस केस के शुरुआती जांच में घटना की वजह साफ नहीं हो सकी थी। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। पुलिस ने उस पिस्टल को भी खोज लिया, जिससे गोली चली थी। वह मार्टिना के पिता का ही लाइसेंसी पिस्टल है। राकेश कुमार गुप्ता स्वास्थ्य विभाग से रिटायर चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी रहा है। एल्डिको कॉलोनी में रहने वाली मार्टिना गुप्ता के शरीर में पांच गोली लगी थे। गोली लगने के बाद परिवार के लोग उसे ट्रॉमा सेंटर ले जा रहे थे। इसी दौरान उसकी रास्ते में मौत हो गई। बताया जा रहा है कि लड़की के पिता के लाइसेंसी पिस्टल से चली गोली से उसकी मौत हुई है। मार्टिना गुप्ता की हत्या के मामले परिवार के सभी लोग शक के दायरे में हैं। मृतक मार्टिना के कमरे से कोई भी रिवॉल्वर नहीं मिली। इस बारे में पूछे जाने पर घर वाले कुछ भी नहीं बोल रहे है। मार्टिना के कमरे की अलमारी में रखी किताब और कागज बिखरे हुए थे। आखिर लाइसेंसी पिस्टल से मार्टिना गुप्ता को पांच गोलियां उसके कमरे में किसने मारी। आखिर कैसे घर वालों को भनक न लगी। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही हैं। पुलिस को दी गई तहरीर में मां मालती ने बताया कि बेटी मार्टिना का सिविल सर्विसेस में सिलेक्शन न होने की वजह से कई दिनों से डिप्रेशन में थी। घटना के समय घर में कोई नहीं था, बेटी ऊपर अपने कमरे में थी। इसी बीच गोली चलने की आवाज आईश्, थोड़ी देर बाद देखा कि राकेश ऊपर से नीचे उतर रहे थे, उनके हाथ में पिस्टल थी। फिर मैं ऊपर गई तो देखा बेटी खून से लतपथ बेड पर पड़ी थी। मुझे संदेह है कि पिता से उसका झगड़ा हुआ होगा, जिसके बाद गुस्साए पिता ने बेटी की लाइसेंसी पिस्टल से गोली मारकर हत्या कर दी। गौरतलब है कि लखनऊ के पीजीआई थाना क्षेत्र में रहने वाले राकेश गुप्ता की बेटी मार्टिना की गोली लगने से शनिवार को संदिग्ध हालत में मौत हो गई थी। परिवार वालों ने बताया कि बेटी ने सुसाइड किया। लेकिन घटना के बाद मां मालती ने पुलिस को तहरीर देकर पिता पर हत्या का शक जाहिर किया।

Share This Post

Post Comment