सरकार कर रही इस नए टैक्स की तैयारी, और ढीली होगी जेब

लखनऊ, उत्तर प्रदेश/नगर संवाददाताः परिवहन विभाग कमर्शियल यात्री वाहनों के लिए एकबारीय कर (वन टाइम टैक्स) की व्यवस्था करने जा रहा है। यह नया एकबारीय कर वाहन के क्रय मूल्य का 10 और 12 फीसद होगा। इसे लेकर बीते माह एक प्रस्ताव तैयार कर शासन को भेजा गया है। भेजे गए प्रस्ताव में ऑटो रिक्शा, टेंपो-टैक्सी और मैक्सी कैब समेत सभी तरह के वाहनों को शामिल किया गया है। टैक्स की यह दर क्रय मूल्य पर आधारित होगी। ऑटो रिक्शा पर क्रय मूल्य का दस प्रतिशत एकबारीय टैक्स देना होगा। वहीं टेंपो-टैक्सी और मोटर मैक्सी कैब में क्रय मूल्य का 12 फीसद टैक्स के रूप में वाहन स्वामी से लिया जाएगा। बता दें कि अभी त्रैमासिक और सालाना टैक्स का प्रावधान है। ई-रिक्शा, बैटरी या सोलर एनर्जी चलित वाहनों पर आधा होगा टैक्स: ई-रिक्शा, बैटरी या सोलर एनर्जी चलित वाहनों के संचालन में खासी राहत रखी गई है। मसलन ऐसे वाहनों को क्रय मूल्य की दर का महज पांच फीसद ही बतौर टैक्स के रूप में देय होगा। उत्तर प्रदेश के परिवहन आयुक्त पी. गुरुप्रसाद कहते हैं, कर चोरी रोकने और पारदर्शिता के लिए इस व्यवस्था को लाने का प्रयास किया जा रहा है। शासन में मंजूरी के लिए इसे भेजा जा चुका है। इसमें छूट का प्रावधान भी किया गया है। महिलाओं को छूट देकर स्वावलंबी बनाने की दिशा में भी एक बेहतर कोशिश है। इसमें पर्यावरण का भी खासा ध्यान रखा गया है। सीएनजी और बैटरी चालित वाहनों के लिए रियायत का भी प्रावधान है। यह वन टाइम टैक्स होगा।

Share This Post

Post Comment