अवैध खनन में संलिप्त तीन लेखपालों को डीएम ने किया निलम्बित

गोंड़ा, उत्तर प्रदेश/श्याम बाबूः जिलाधिकारी जेबी सिंह ने अवैध खनन के आरोप में तीन लेखपालों के खिलाफ निलम्बन की कार्यवाही की है। यह जानकारी देते हुए जिलाधिकारी ने बताया कि तहसील तरबगँज क्षेत्र दुर्गागंज के लेखपाल राम सागर यादव, ऐली परसौली के लेखपाल राम शंकर ओझा तथा तहसील करनैलगंज धनावा रुधौली के लेखपाल राकेश वर्मा को तत्काल प्रभाव से सस्पेन्ड कर दिया गया है तथा तरबगंज के निलम्बित लेखपलों की जांच हेतु तहसीलदार तरबगंज तथा करनैलगंज के लेखपाल के खिलाफ जांच हेतु तहसीलदार करनैलगंज को जाँच अधिकारी नामित किया गया है। इसके अलावा अवैध खनन पर प्रभावी अंकुश लगाने के लिए तत्काल प्रभाव से रात्रि में खनन पर रोक लगा दी है। डीएम ने इस आशय का आदेश सभी एसडीएम, सीओ व पटटेदारों को जारी कर दिए हैं। जिलाधिकारी ने बताया कि जनपद गोण्डा में छः माह के लिए साधारण बालू खनन लाइनसेन्स धारकों को निर्देशित किया है कि वे जिला स्तरीय पर्यावरण समाघात प्राधिकरण गोण्डा द्वारा निर्गत पर्यावरण स्वच्छता प्रमाण पत्र की शर्त ‘‘खनन प्रक्रिया सूर्यास्त के पश्चात नहीं की जायेगी’’, का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित करेगेें। उन्होने खनन लाइसेन्स धारकों को स्पष्ट चेतावनी दी है कि आदेश के उल्लंघन की दशा में खनन अनुज्ञापत्र तत्काल प्रभाव से निरस्त कर दिया जायेगा और सूर्यास्त के पश्चात खनन संक्रिया में संलिप्त वाहन, मशीन व व्यक्तियों के विरूद्ध सुसंगत विधि व नियमों के अन्तर्गत अवैध खनन व परिवहन मानते हुए कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी। इसके अलावा लाइसेन्सी पट्टेदारों को खनन एवं परिवहन हेतु उपयोग किए जाने वालों पंजीकृत वाहनों का पूरा ब्योरा जैसे वाहनधारक का नाम व पता, वाहन चालक का नाम, वाहन का प्रकार डीएम गोण्डा की ईमेल आईडी पर उसी दिन उपलब्ध करानी होगी। सूचित किए गए अन्य वाहनों से पहिवहन पाए जाने पर उसे अवैध मानते हुए कार्यवाही की जाएगी। इसके अलावा जिलाधिकारी ने जनपद गोण्डा में स्थापित व कार्यरत समस्त वाणिज्यिक दूकान, प्रतिष्ठान व अधिष्ठान को निर्देशित किया है कि वह उ0प्र0 खनिज (परिहार) नियमावली 1963 के अन्तर्गत साधारण बालू, मोरम, गिट्टी के क्रय विक्रय के सम्बन्ध में अपेक्षित प्रपत्र सी के बिना किसी भी प्रकार का वाणिज्यिक संव्यवहार नहीं करने के आदेश जारी किए हैं। उन्होने बिना डम्पिंग लाइसेन्स के भण्डारण करने वालो दुकानदारों अथवा ठेकेदारों के खिलाफ कार्यवाही करले हेतु उपायुक्त वाणिज्यकर को आदेश दिए हैं कि वे डीएम को साप्ताहिक रिपोर्ट उपलब्ध कराएं। उन्होने चेतावनी दी है कि आदेश का उल्लंघन करने की दशा में दुकान, प्रतिष्ठान व अधिष्ठान पर उपलब्ध साधारण बालू व मोरम व गिट्टी शासन के पक्ष में जब्त करते हुए दण्डात्मक कार्यवाही की जायेगी। इसके अतिरिक्त डीएम ने शिकायतकर्ताओं व अन्य माध्यमों से अवैध खनन सम्बन्धी प्राप्त हो रही शिकायतों का संज्ञान लेते हुए तत्काल प्रभाव से तहसील स्तर पर अवैध खनन व परिवहन पर प्रभावी अंकुश लगाने के लिए जांच टीम गठित कर दी है जो अपने-अपने क्षेत्रों में लगातार औचक निरीक्षण/छापेमारी कर खनन सम्बन्धी साप्ताहिक रिपोर्ट जिलाधिकारी को उपलब्ध कराएगे। जिलाधिकारी ने बताया कि तहसील स्तर पर गठित की गई टीम में सम्बन्धित तहसील के तहसीलदार तथा सम्बन्धित क्षेत्र के प्रभारी निरीक्षक/थानाध्यक्ष को रखा गया है जो थानावार जांच रिपोर्ट जिलाधिकारी को देगें।

Share This Post

Post Comment