कन्नौज मेडिकल कालेज में रैंगिंग को लेकर उपद्रव, पथराव, पांच घायल

कन्नौज, उत्तर प्रदेश/नगर संवाददाताः राजकीय मेडिकल कालेज तिर्वा में सोमवार देर रात रैगिंग को लेकर जूनियर व सीनियर छात्र आपस में भिड़ गए। मारपीट के साथ काफी देर तक पथराव से दहशत फैली गई। मेडिकल छात्रों ने सुरक्षा गार्डों पर भी हमला बोल दिया। तीन सुरक्षा गार्डों के सिर फट गए, जबकि दो अन्य को भी गंभीर चोटें आई हैं। कई थानों का फोर्स मौके पर पहुंच गया। छात्रावास से लेकर इमरजेंसी तक मेडिकल छात्रों को संभालने की कोशिश शुरू हुई पर उपद्रव की वजह से कोई पास पहुंचने का साहस नहीं जुटा सका। सोमवार देर रात करीब साढ़े नौ बजे मेडिकल कालेज परिसर स्थित नर्सेज हास्टल में मेस में खाना खाने पहुंचे सीनियर व जूनियर मेडिकल छात्रों के बीच रैगिंग को लेकर कहासुनी हो गई। आधा घंटा तक दोनों पक्षों के बीच छींटाकशी चलती रही। इसके बाद दोनों ग्रुप से कुछ छात्रों ने एक-दूसरे से हाथापाई कर दी। इससे मामला भड़क गया। दोनों गुटों के सैकड़ों छात्र मेडिकल कालेज परिसर में उतर आए। इस दौरान जमकर बवाल हुआ। एक-दूसरे पर ईंट-पत्थर भी फेंके गए। मारपीट व पथराव में करीब दर्जन भर छात्र जख्मी भी हो गए। सूचना पर पहुंचे सुरक्षा गार्डों पर भी हमला बोला गया। सुरक्षा गार्ड कप्तान, हर मोहन, सुधीर, नरेंद्र व समरजीत को चोटें आईं। कालेज के प्राचार्य डॉ. डीएस मार्तोलिया, सीएमएस डॉ. दिलीप सिंह की सूचना पर तिर्वा कोतवाली समेत कई थानों का फोर्स पहुंच गया। पुलिस को देख छात्रों ने अपने-अपने हास्टल के बाहर नारेबाजी के साथ पथराव करना शुरू कर दिया। इससे पुलिस अंदर घुसने की हिम्मत नहीं जुटा पाई। देर रात तक छात्र हास्टल के बाहर जुटे रहे। प्राचार्य डीएस मार्तोलिया ने बताया कि रैगिंग की बात कही जा रही है, लेकिन सच्चाई सामने नहीं आई है। छात्रों की शिकायत मिलती है तो आरोपी छात्रों को कालेज से बाहर कर दिया जाएगा।

Share This Post

Post Comment