बाइक सवारों ने हिंदू नेता विपन को गोलियों से भूना

गुरदासपुर, पंजाब/संजीवः हिंदू संघर्ष सेना के जिला प्रधान और केवल आप्रेटर विपन कुमार की सोमवार दोपहर 3 बजे के करीब बढाला रोड़ पर गोलियां मार कर हत्या कर दी गई। वारदात में 4 हमलावर शामिल थे। 2 मोटरसाईकिलों पर सवार होकर मेन रोड़ पर खड़े रहे जबकि 2 पैदल गली में आए और वहां पर दोस्तों के साथ विपन कुमार पर अंधाधुध फायरिंग कर दी। पूरी वारदात सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। गोलियां मारने वाले एक हमलावार का चेहरा सीसीटीवी में साफ नजर आ रहा है, जबकि दूसरे का मुंह कपड़े से ढका हुआ है। पुलिस इस वारदात को आतंकी हमले और कारोबारी रंजिश दोनों के साथ जोड़ कर जांच में जुटी है। मामला एक समुदाय के साथ जुड़ा होने के कारण पुलिस के साथ साा खूफिया एजैंसियों में भी हड़कंप मचा गया। देर रात तक खुफिया एजेंसियां भी जांच में जुटी रहीं 17 अक्तूबर को लुधियाना में आर.एस.एस नेता रविंदर गोसाई की भी इसी तरह बाइक सवारों ने गोलियां मार कर हत्या की। इस हत्याकांड़ के आरोपी भी अभ्ज्ञी तक पुलिस की पकड़ से दूर है। दोनों ही मामलों में कई बातें आपस में मेल खा रही हैं। बटाला रोड़ प्रीत नगर में रहने वाले विपन कुमार सोमवार दोपहर को भारत नगर मेन बाजार में अपने दोस्त गुरजीत सिंह मोनू के साथ शर्मा डेयरी के बाहर खड़े थे। मोनू उन्हे मोटरसाईकिल पर घर छोड़ने के लिए जाने की तैयारी में था। इतने में मेन बाजार के साथ वाली गली में से 2 हथियारबंद युवक निकले और विपन कुमार पर फायरिंग शुरू कर दी। युवकों के हाथों में पिस्तौल देख मोनू और पास खड़ा एक और युवक भाग खड़े हुए। पहली गोली लगते ही विपन कुमार जमीन पर गिर गया। इसके बाद दोनों युवकों ने जमीन पर पड़े विपन कुमार पर अंधाधुंध फायरिंग की। पुलिस के अनुसार विपन कुमार को 15 गोलियां लगने के बाद भी वह जिंदा था और जब उन्हें बाईपास स्थित एस्कार्ट अस्पताल ले जाया गया तो बीच रास्ते में ही उनकी मृत्यु हो गई। इस वारदात की सूचना मिलते ही पुलिस कमिश्नर एस. एस. श्रीवास्तव, डी.सी.पी. अमरीक सिंह पंवार, काउंटर इंटैलीजैंस के ए.आई.जी. अमरजीत सिंह बाजवा, खुफिया एजैंसी, स्टेट स्पेशल आप्रेशन सैल के अधिकारियों के अलावा कई पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे। पुलिस ने शर्मा डेयरी में लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज को कब्जे में लिया। जांच के दौरान पाया गया कि वारदात में 4 हमलावर शामिल थे। हमलावरों ने पहले इलाके की रेकी की। फिर वारदात को अंजाम दिया। थाना रामबाग में अज्ञात हमलावरों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है।

Share This Post

Post Comment