शिकायतों के निस्तारण में फिसड्डी अधिकारियों को डीएम ने लगाई फटकार

शिकायतों के निस्तारण में फिसड्डी अधिकारियों को डीएम ने लगाई फटकार

गोंड़ा, उत्तर प्रदेश/श्याम बाबूः आईजीआरएस पोर्टल पर विभिन्न संदर्भों के माध्यम से प्राप्त होने वाली शिकायतों का समयबद्ध निस्तारण न करने वाले अधिकारियों को कड़ी फटकार लगाते हुए तीन दिवस के भीतर लम्बित शिकायतों को निस्तारित करने की चेतावनी दी है। यह चेतावनी डीएम जेबी सिंह ने कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित आईजीआरएस की समीक्षा के दौरान दी है। आईजीआरएस पर प्राप्त शिकायतों के निस्तारण की समीक्षा के दौरान ज्ञात हुआ कि विभिन्न विभागो के माध्यम से प्राप्त 905 शिकायतें लम्बित हैं जिनमें से 593 शिकायतें समय सीमा के अन्दर व जबकि 304 शिकायतें समयावधि बीत जाने के बाद भी लम्बित हैं। इसी प्रकार राजस्व विभाग व पुलिस क्षेत्राधिकारी स्तर पर 690 के सापेक्ष 156 शिकायतें डिफाल्टर श्रेणी में, जनपद के 18 थानों में 303 शिकायतों के सापेक्ष 285 समय सीमा अन्र्गत व 18 डिफाल्टर श्रेणी में तथा ब्लाक स्तर पर लम्बित 59 में 45 समय सीमा अन्तर्गत तथा 14 शिकायतें समयावधि के उपरान्त लम्बित पाई गईं। प्राप्त शिकायतों में मुख्यमंत्री संदर्भ 3183 के सापेक्ष 268, जिलाधिकारी संदर्भ 2425 के सापेक्ष 210 शिकायतें, पुलिस अधीक्षक संदर्भ 827 के सापेक्ष 199 शिकायतें, सम्पूर्ण समाधान दिवस संदर्भ 9032 के सापेक्ष 345 शिकायतें, भारत सरकार पीली पोर्टल पर 908 के सापेक्ष 72 शिकायतें, आलनइन संदर्भ 5855 के सापेक्ष 376 शिकायतें, शासन तथा राजस्व परिषद संदर्भ की 249 के सापेक्ष 6 शिकायतें तथा एंटी भूमाफिया के संदर्भ की 230 शिकायतों के सापेक्ष 22 शिकायतें लम्बित पाई गई हैं। लम्बित शिकायतों में सबसे ज्यादा 145 शिकायतें एलडीएम गोण्डा, 76 शिकायतें डीडीओ, 40 शिकायतें बीएसए, डीपीआरओ स्तर पर 120, एक्सईएन जल निगम स्तर पर 51, पुलिस अधीक्षक स्तर पर 93 तथा 77 शिकायतें पीडी के स्तर पर लम्बित पाई हैं। डीएम ने लम्बित शिकायतों का समयबद्ध निस्तारण न करने वाले अधिकारियों को मीटिंग में ही फटकार लगाते हुए तीन दिन के भीतर सभी शिकायतों को निस्तारित कर रिपोर्ट देने के आदेश दिए हैं। वहीं फोन न उठाने की शिकायतों का संज्ञान लेते हुए पीडी वीरपाल को सुधार न होने पर प्रतिकूल प्रविष्टि देने की भी चेतावनी दी है। जनपद में शिकायतों के निस्तारण का प्रतिषत 91.90 प्रतिषत पाया गया। बैठक में सीआरओ एके शुक्ल, एसडीएम सदर अर्चना वर्मा, एसडीएम मनकापुर उमेश चन्द्र उपाध्याय, एसडीएम तरबगंज अमरेश मौर्य, सीएमओ डा0 संतोष श्रीवास्तव, सभी तहसीलदार, पीडी वीरपाल, एडी बेसिक एम0पी0 सिंह, डीआईओएस राम खेलावन वर्मा, बीएसए संतोष पाण्डेय, जिला आबकारी अधिकारी निरंकारनाथ पाण्डेय, जिला समाज कल्याण अधिकारी अंजनी कुमार, एक्सईएन विद्युत अशोक यादव, ई-डिस्ट्रिक्ट मैनेजर अमित गुप्ता, सभी ईओ, लिपिक संजय श्रीवास्तव सहित अन्य सम्बन्धित विभागीय अधिकारीगण उपस्थित रहे।

Share This Post

Post Comment