बाल कटाकर आने को कहा तो छात्र ने शिक्षकों को मारा चाकू

मुंबई, महाराष्ट्र/नगर संवाददाताः पुने के एक कॉलेज में 18 वर्षीय छात्र ने शुक्रवार को दो शिक्षकों पर सिर्फ इसलिए चाकू से हमला किया, क्योंकि उनमें से एक ने उसे बाल कटाकर कक्षा में आने को कहा था। घटना वाघोली इलाके स्थित जोगेश्वरी हाई स्कूल और जूनियर कॉलेज परिसर की है। हमला करने के बाद से छात्र फरार है। पुलिस ने उसके खिलाफ आइपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया है। कक्षा 11 के छात्र सुनील पोपट भोर के हमले के कारण लेक्चरार धनंजय अबनवे के सिर, गर्दन, हाथ और पेट तथा लेक्चरार दर्शन चौधरी के माथे, व हाथ में गंभीर चोटें आईं हैं। उनका यहां के एक निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है। दोनों की हालत स्थिर है। दर्शन बताते हैं, शुक्रवार सुबह आठ बजे प्रार्थना के बाद हम अपनी-अपनी कक्षाओं में जा रहे थे। अचानक मैंने देखा सुनील लेक्चरार धनंजय को गाली देते हुए चाकू से उन पर हमला कर रहा था। जब मैं उन्हें बचाने पहुंचा तो उसने मुझ पर भी चाकू से हमला कर दिया। बाद में हम दोनों अचेत होकर गिर पड़े। विद्यालय के शिक्षकों के अनुसार, सुनील एक अनुशासनहीन छात्र है। लंबे-लंबे बाल रखने के कारण दो दिन पहले उसे कक्षा में फटकार मिली थी। उससे बाल कटाकर ही कक्षा में आने को कहा गया था। गुरुवार को, वह कक्षा में बाल कटाकर तो आया, लेकिन टोपी लगाए था। इस पर धनंजय ने उसे टोपी उतारने या कक्षा से चले जाने को कहा। उस समय वह चला गया, लेकिन अगले दिन चाकू से हमला कर फरार हो गया।

Share This Post

Post Comment