मंदिर टूटने का मामला एक बार फिर गर्माया

नई दिल्ली/रणवीर कुमार: रोहिणी क्षेत्र के राजा विहार कॉलोनी में प्राचीन शिव-शक्ति हनुमान मंदिर में एक बार फिर मेट्रो प्रशासन द्वारा विकट समस्या उत्पन्न करने का मामला सामने आ रहा हैं। इस मंदिर में पूजा -अर्चना करने भक्त- गण के लोग हजारों के तादाद में आते हैं। मेट्रो प्रशासन यहाँ के भोली-भाली जनता (भक्त गण) और यहाँ के जन प्रतिनिधियों के साथ लुक्का -छिप्पी का खेल, खेल रही हैं। बीते वर्ष ऐसा ही मामला सामने आया जिसमें मंदिर टूटने की बात मीडिया में आई  जिसके बाद यहाँ के जनप्रतिनिधि द्वारा किया गया अथक प्रयास के बाद मामला शांत हुआ था पर एक बार फिर मंदिर टूटने के खबर से हड़कंप का माहौल बना हुआ हैं। मेट्रो प्रशासन की दबंगई रवैया कभी मेट्रो का किराया बढाना, तो कभी मंदिर तोड़ने का बात करना। मंदिर के पुजारी बाबा अमरनाथ गिरी से बात की, तो बाबा ने बताया की मेट्रो कर्मचारी द्वारा सफेद लाइन की चिन्ह बना व मंदिर तोड़े जाने की बात दो-तीन के अंदर में कह रही हैं। नोटिस जमीन मालिक को मिला या नही इससे भी अंजान हूं। अब पता नही क्या होगा। अब एक बार फिर यहाँ के जनता का आस जनप्रतिनिधि के उपर टीकी हुई हैं। इस समस्या के समाधान हर पार्टी के नेता सामने आए क्योंकि ये राजनीति से जुड़ी खबर नहीं ये धर्म और आस्था के प्रति खबर हैं।

Share This Post

Post Comment