प्रदेश की महिलाओं ने भरी हुँकार शराब बंदी के लिए पूनम अंकुर छाबडा के साथ

सीवान, बिहार/अमित कुमारः पुरे प्रदेश में विभिन्न समाजिक संगठनों के माध्यम से जन सेवा कार्यो में कार्यरत महिलाओं का प्रतिनिधि मंडल संपूर्ण शराब बंदी आन्दोलन जस्टिस फॉर छाबडा जी की राष्ट्रीय अध्यक्ष पूनम अंकुर छाबडा के संग टोंक रोड़ पर आयोजित कार्यक्रम में पहुँची और शराब बंदी पर दिनभर सार्थक चर्चा कर आगे की रणनीति बनाई। प्रतिनिधि मंडल में शामिल महिलाओं ने शराब बंदी के लिये लगातार आंदोलनरत पूनम अंकुर छाबडा का स्वागत करते हुए कहा कि आपके जोश और जूनून के चलते हम सब प्रेरित हुई है और आज से हम सब अपने अपने संगठनों के माध्यम से प्रदेश को शराब मुक्त करवाने के लिए जारी आपके इस महायज्ञ में आपके साथ कंधे से कंधा मिलाकर साथ है और अपने अपने क्षेत्र में शराब बंदी आन्दोलन को आगे बढ़ाएंगे। इस आन्दोलन को आपके नेतृत्व में जन आंदोलन का रूप देकर सरकार को शराब बंदी पर विवश कर देगे। पूनम अंकुर छाबडा ने सभी आगुंतक महिला प्रतिनिधियों का स्वागत करते कहा कि यह आंदोलन, यह संगठन सिर्फ मेरा नहीं यह आप सब का है, हर प्रदेशवासी का है और आप सब की नेक सोच, नेक निष्ठा से हम सब अपने प्रदेश को निश्चित रूप से शराब मुक्त प्रदेश बनाकर दम लेंगे। सरकार अपने निजी स्वार्थो के चलते शराब रुपी जहर, दानव की हितैषी बनी बैठी है पर अब प्रदेश की नारी शक्ति जाग चुकी है और इस शराब रूपी दानव का अंत करके रहेगी तथा शराब सेवन से होने वाली दुर्घटनाओं व इसके कारण महिलाओं को आत्महत्या करनी पड़ रही है और सरकार मौन बनी बैठी है, यह निंदनीय है सरकार समय रहते शराब बंदी बड़ा क़दम लें, नहीं तो पूरे प्रदेश की महिलाएँ इस बार राजधानी में जन आंदोलन छेड़ देंगी। पूनम अंकुर छाबडा के नेतृत्व में शराब बंदी आन्दोलन की आगे की योज़ना पर चर्चा हुई और आगामी प्रदेश लेवल पर आन्दोलन की रूप रेखा बनाई गई।

Share This Post

Post Comment