1993 मुंबई सीरियल ब्लास्ट केस में अंडरवर्ल्ड डॉन अबू सलेम को उम्रकैद की सजा

पाली, राजस्थान/महेन्द्र कुमारः 1993 मुंबई सीरियल ब्लास्ट केस में अंडरवर्ल्ड डॉन अबू सलेम को उम्रकैद की सजा सुनाई गई है। इसके साथ ही विशेष टाडा अदालत ने उसके साथी करीमुल्लाह शेख को भी उम्रकैद की सजा देते हुए 2 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है। एक अन्य दोषी मुस्तफा दोसा का दिल का दौरा पड़ने से पहले ही मौत हो चुकी है। मुंबई विस्फोट के 24 साल बाद अदालत ने अबू सलेम सहित छह लोगों को दोषी करार दिया था, जबकि एक आरोपी को दोषमुक्त कर दिया था। करीमुल्लाह हथियार सप्लाई करने का दोषी है। अबू सलमे को कोर्ट ने हथियार सप्लाई करने का दोषी पाया। संजय दत्त को हथियार पहुंचाए थे। 16 जून 2017 को कोर्ट ने इस केस में अबू सलेम, मुस्तफा दौसा, उसके भाई मोहम्मद दौसा, फिरोज अब्दुल राशिद खान, मर्चेंट ताहिर और करीमुल्लाह शेख को दोषी करार दिया था। जबकि इनमें से मुस्तफा दौसा की 28 जून को हार्टअटैक से मौत हो गई थी। 12 मार्च 1993 को धमाकों में 257 लोगों की मौत हो गई थी। इसके अलावा 713 लोग गंभीर रूप से घायल हुए थे। उस समय तकरीबन 27 करोड़ रुपए की प्रॉपर्टी को नुकसान पहुंचा था। जिसके बाद 4 नवंबर 1993 को 10 हजार पन्नों की चार्जशीट दायर की गई थी।

Share This Post

Post Comment