बच्चों की मौत पर भाजपा का बयान हताशा का परिचायक : त्रिशानु

पश्चिम सिंघभूम, झारखंड/गोपाल निषादः कांग्रेस जिला सचिव सह मीडिया प्रभारी त्रिशानु राय ने भाजपा के उस बयान पर कड़ा एतराज जताया है जिसमें भाजपा ने कहा है कि कांग्रेस बच्चों की मौत पर घड़ियाली आंसू बहा रही है। श्री राय ने कहा कि भाजपा का यह कहना इनकी निराशा और हताशा को दर्शाता है। स्वास्थ्य सुविधाओं को लेकर उच्च न्यायालय, राज्यपाल और बाल संरक्षण आयोग की गंभीर टिप्पणी पर भी भाजपा और सरकार दोनों को गौर करना चाहिए। कांग्रेस को कोसने और दोषी ठहरा देने मात्र से भाजपा जिम्मेदारियों से बच नहीं सकती। उन्होंने कहा कि अगर यही स्थिति रही तो सरकार के मंत्री और भाजपा के नेताओं को आम नागरिकों के आक्रोश और कोपभाजन का शिकार बनने से कोई रोक नहीं सकता है। राज्य के तीनों बड़े अस्पताल, रिम्स राँची , एमजीएम जमशेदपुर एवं पीएमसीएच धनबाद में सिर्फ अगस्त महीने में लगभग 300 बच्चों की मौत हो चुकी है। अस्पतालों की स्थिति दयनीय हो गई है। अस्पताल के अंदर कहीं भी अनुशासन नजर नहीं आ रहा है। मेडिकल उपकरण काम नहीं कर रहे हैं। एमटीसी न तो प्रभावी है ओर न हीं पर्याप्त मात्रा में है। इसे ठीक करने के बजाय सरकार और उनके विधायक अनर्गल बयानबाजी कर रहे हैं। उन्होंने कहा है कि स्वास्थ्य सुविधाओं की बेहतरी के लिए अगर भाजपा में हिम्मत है तो स्वास्थ्य मंत्री को निलम्बित करें और आनेवाले दिनों में कुपोषण से हो रहे बच्चों की मौत नहीं हो, इसकी गारंटी सुनिश्चित करे।

Share This Post

Post Comment