दिल्ली में बढ़े बिजली के दाम, भाजपा ने बोला केजरीवाल सरकार पर हमला

नई दिल्ली/नगर संवाददाताः दिल्ली में बिजली वृद्धि को लेकर राजनीति शुरू हो गई है। दिल्ली भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने दिल्ली में सत्तासीन आम आदमी पार्टी सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि यदि केजरीवाल सरकार चाहती तो केवल रिटर्न आॅन इक्विटी को वर्तमान बैंक दरों के हिसाब से घटाकर बिजली दरों में 10 से 15 फीसद की कटौती कर सकती थी, लेकिन सरकार ने निजी कंपनियों से मिलीभगत करना जनता को लाभ देने से बेहतर समझा है। दिल्ली से सांसद मनोज तिवारी ने कहा है कि अरविंद केजरीवाल सरकार और डीईआरसी ने दिल्ली की जनता के साथ विश्वासघात किया है। गत 31 माह में केजरीवाल सरकार ने दिल्ली में बिजली की दरें घटाने के लिए कोई प्रयास नहीं किया और बिजली कंपनियों के खातों की जांच के नाम पर भी केवल छलावा किया गया। मनोज तिवारी ने कहा कि आज सरकार ने प्रत्यक्ष रूप में तो बिजली की दरों में कोई वृद्धि नहीं दर्शाई, लेकिन परोक्ष रूप से फिक्सड सरचार्ज की दरों में किए गए बदलावों से निजी कंपनियों को 35 से 40 करोड़ रुपये का लाभ पहुंचेगा। भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि हमारे निरंतर राजनीतिक दबाव और जागरूकता के कारण ही केजरीवाल सरकार निजी बिजली कंपनियों के पक्ष में बिजली की दरों में कोई वृद्धि नहीं कर सकी है।

Share This Post

Post Comment