भ्रष्ट अधिकारियों पर किसका संरक्षण और क्यों इस बात का भी हो चूका है खुलासा

मुंबई, महाराष्ट्र/नदीर मुलाणीः पालघर जिला के वसई तालुका में पत्रकार पर दिन प्रतिदिन हमले जैसे मामले में वृद्धि हुआ है और इसका कारण क्या है इस बात का खुलासा तब हुआ जब एक भू माफिया ने मनपा के भ्रष्ट अधिकारी के पक्ष से बोलते हुए २५,२६ जुलाई को मनपा सी यू सी कार्यवाई को लेकर अतिक्रमण प्रमुख अधिकारी गणेश पाटिल का पर्दा फास करने वाले को मारने की धमकी दिया है,भू माफिया ने साफ शब्दों में कहा है कि गणेश पाटिल को निलंबित तो होने नहीं दूगाँ अगर निलंबित हो गए तो गणेश पाटिल का पर्दा फास करने वाले को जान से मार दूंगा ।सी यू सी विभाग के अधिकारी इस समय भ्रष्टाचारिता को लेकर सुर्खियों में है ,गणेश पाटिल ने फ़ोन करके उस भू माफिया से संरक्षण मांग रहे थे जिस भू माफिया के अवैध निर्माण पर गणेश पाटिल का पूरा संरक्षण रहता है।मनपा सी यू सी विभाग के प्रमुख अधिकारी गणेश पाटिल ने उस भू माफिया से नौकरी के बचाव के लिए निवेदन भी किये है, अब बात लोगों को ये समझ में नहीं आ रहा है कि गणेश पाटिल के उपर अगर कोई कार्यवाई करना है तो वो मनपा आयुक्त सतीश लोखंडे करेगें ना कि वो भू माफिया कर सकता है ,अगर भू माफिया गणेश पाटिल पर कोई कार्यवाई नहीं कर सकता है तो उनका बचाव कैसे करेगा यही बात गम्भीर रूप से विचार करने योग्य है।ये मामला दिन प्रतिदिन गंभीर बनता जा रहा है और गणेश पाटिल का पर्दा फास कर्ता पर हर समय खतरा बना हुआ है,वसई-विरार शहर मनपा आयुक्त इस मामले को गंभीरता से लेकर जाँच करवा के उचित कार्यवाई नहीं किये तो कोई भी बड़ी घटना का जबाबदार वसई-विरार शहर मनपा होगा। यह मामला सिर्फ एक भ्रष्ट अधिकारी का नहीं है बल्कि वसई-विरार शहर मनपा में जितने भी भ्रष्ट अधिकारी है सब पर जाँच बैठा कर दोषी पाये जाने पर उचित कार्यवाई होना ही मनपा के लिए उचित रास्ता है,पिछले कुछ दिनों से भ्रष्ट अधिकारी के बारे में बहुत कुछ सोशल मीडिया पर आ चुका है पर अभी तक मनपा के मुख्य अधिकारी द्वारा कोई भी उचित कार्यवाई नहीं हुआ है क्या मनपा इस बात का इंतजार कर रही है कि इस मामले में किसी की हत्या होने पर ही उचित कार्यवाई करेगी,

इन सब बातों के तहत होना चाहिए उचित कार्यवाई

नोट-१-पर्दा फास कर्ता व शिकायत कर्ता की सुपारी देने वाले मनपा सी यू सी प्रमुख अधिकारी गणेश पाटिल को निलंबित और उन पर क़ानूनी कार्यवाई,
२-पर्दा फास कर्ता व शिकायत कर्ता की सुपारी लेने वाले भू माफिया पर एम आर टी पी के तहत मामला दर्ज और सुपारी लेने पर क़ानून की उचित कार्यवाई
३-सुपारी लेने वाले भू माफिया के सभी अवैध निर्माण पर तोड़क कार्यवाई
इस मामले को गंभीरता से लेकर जल्द से जल्द उचित कार्यवाई नहीं हुआ तो किया जायेगा मंत्रालय में धरना प्रदर्शन

Share This Post

Post Comment