सड़कों में गड्ढे हैं या फिर गड्ढों में सड़क

जालोर, राजस्थान/पृथ्वीराज चारणः बागोड़ा उपखण्ड़ मुख्यालय से गुड़ामालानी वाया गुजरवाड़ा राउता की ओर जाने वाली सड़क कहने को तो स्टेट हाईवे है लेकिन मोखे पर रोड़ का नामों निशान तक नहीं है और रोड़ के मध्य में दो दो फिट के खड़्ड़े पड़े है। दोनों तरफ सुरक्षा पटरी नहीं होने के कारण दुपहिया वाहन चालकों के हादसे बनें रहने की संभावना रहती है। परंतु सरकार की ओर से कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है। सड़कों में गड्ढे हैं या फिर गड्ढों में सड़क है। इसके साथ ही सड़कों में हो रखे बड़े-बड़े गड्ढे कभी भी बड़ी दुर्घटना को दावत दे सकते हैं। पैदल आने-जाने वाले लोग खासकर स्कूली बच्चों को भी खासी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।सड़क पर राहगीरों और वाहन चालकों के लिए दुर्भर हो गया है। इससे परेशानी भी बढ़ जाती है बल्कि कई बार क्षेत्र में बैठकों में अधिकारी जनप्रतिनिधि इस सड़क से गुजरकर पहुंचते हैं। वर्तमान में यह सड़क क्षतिग्रस्त होने के चलते वाहन चलाते वक्त हमेशा डर सताता है। सड़क पर राहगीरों और वाहन चालकों के लिए दुर्भर हो गया है। इस प्रकार की सड़क होने के कारण परेशानी झेलनी पड़ रही है। डर हमारा इस सड़क पर हमेशा आना जाना रहता है। वर्तमान में यह सड़क क्षतिग्रस्त होने के चलते वाहन चलाते वक्त हमेशा डर सताता है।

Share This Post

Post Comment